Best Web Blogs    English News

facebook connectrss-feed

जागरण मेहमान कोना

विभिन्न क्षेत्रों के विशेषज्ञों व विद्वानों के विचारों को उद्घाटित करता ब्लॉग

1,937 Posts

359 comments

Celebrity Writers


Sort by:

Indian Politics: आप की राजनीति

Posted On: 25 Nov, 2013  
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (1 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading ... Loading ...

पॉलिटिकल एक्सप्रेस में

0 Comment

नीयत पर नीति का पर्दा

Posted On: 15 Nov, 2013  
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading ... Loading ...

पॉलिटिकल एक्सप्रेस में

1 Comment

नाकामी की नई बानगी

Posted On: 23 Oct, 2013  
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading ... Loading ...

पॉलिटिकल एक्सप्रेस में

0 Comment

American Economy: अमेरिका की असलियत

Posted On: 18 Oct, 2013  
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (1 votes, average: 1.00 out of 5)
Loading ... Loading ...

पॉलिटिकल एक्सप्रेस में

1 Comment

नए मोड़ पर लोकतंत्र

Posted On: 4 Oct, 2013  
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (1 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading ... Loading ...

पॉलिटिकल एक्सप्रेस में

0 Comment

देश से क्या कहेंगे मनमोहन

Posted On: 3 Oct, 2013  
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (1 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading ... Loading ...

पॉलिटिकल एक्सप्रेस में

0 Comment

Page 1 of 19412345»102030...Last »

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

दुर्योधन को भी कृष्णा जी में दोष दिखाते थे ,तो आज कलियुग में दुर्योधन जैसे व्यक्तिओ की कमी नहीं है , आसारामजी पर २००८ में भी आरोप लगे थे ,जिसपर " सी आई डी " और " सुप्रीम कोर्ट " दोनों ने क्लीन चिट दी थी .और अब फिर से जो आरोप लगे है वो कोर्ट में चल रहे है लेकिन आज हिन्दू संत पर बोलने के लिए हर जगह व्यक्ति जज बनकर घूम रहा है .करोड़ व्यक्तिओ में से २-४ व्यक्तिओ के द्वारा लगाए गए आरोप जो लगाए गए है उनकी सच्चाई कितनी है यह कोर्ट का जज बता देगा .और आज के वातावरण में पैसे के दम पर कुछ व्यक्तिओ को ख़रीदा जा सकता है लेकिन लाखो व्यक्तिओ को नहीं .मै केवल एक तथ्य रख रहा हु ,क्योकि आज के वातावरण के अनुसार गलत कोई भी हो सकता है ,किसी एक को गलत नहीं कह सकते जब तक की कोर्ट का रिजल्ट न आ जाए .ॐ

के द्वारा:

BLOG- IN INDIA HINDU RELIGION INDIVIDUAL CASTES/HINDU RELIGION O.B.C WEAKER SECTION/S.C/S.T DEVELOPMENT VERY-VERY BIG ROLE OF SUFFICIENT NUMBER LAWYER AND M.B.B.S/M.D/M.S DEGREE/PROFESSION POVERTY SOLUTION AND BUSINESS(INDUSTRY) ,IN INDIA HINDU RELIGION ,INDIVIDUAL CASTES POVERTY REMOVE ,POWER(DABANG),BUSINESS (INDUSTRY) LAND OWNER ,GOVT TENDER VERY-VERY BIG ROLE OF INDIVIDUAL CASTES SUFFICIENT NUMBER LAWYER AND M.B.B.S/M.D/M.S DEGREE PROFESSION , ALSO READ MU BLOG URL-http://mantusatyam.blogspot.com/2013/08/ ,google plus and face book in many news channel. BY MANTU KUMAR SATYAM, ,Religion-Hindu,Category-O.B.C (Weaker section & minority), caste-Sundi(O.B.C weaker section & minority), SEX-MALE,AGE-29Y Add-s/o.SHIV PRSAD MANDAL, FRONT BAIDYNATH TRADING /HARDWARE,AIRCEL MOBILE TOWER BUILDING, CHOICE EMPORIUM SHOP BUILDING,Near jamuna jour pool, near ramjanki mandir,castair town,SARWAN/SARATH MAIN ROAD, ,DEOGHAR,DISTRICT-DEOGHAR, JHARKHAND-814112,INDIA . MY VOTER ID CARD DETAIL-CONSTITUTION DEOGHAR ASSEMBELY,DIST-DEOGHAR,JHARKHAND, INDIA, VOTER ID CARD NUMBER-MQS5572490,AADHAR CARD ENROLLMENT NUMBER-2017/60236/00184,DATE-10/12/2012 ,TIME-13:43:52,AADHAAR NUMBER-310966907373 ) o . occupation- MSCCRRA study from SMUDE,SYNDICATE HOUSE ,MANIPAL KARNATAK, POST GRADUATE DIPLOMA IN HUMAN RIGHTS FROM INDIAN INSTITUTE OF HUMAN RIGHTS ,NEW DELHI (SESSION-2012-14)(ONE YEAR POST GRADUATE DIPLOMA IN HUMAN RIGHTS COMPLETE)& post graduate diploma in criminal justice and forensic science from Hyderabad university center of distance education(session 2012-13) BLOG DETAIL- In INDIA HINDU RELIGION any caste /INDIVIDUAL CASTES sufficient NUMBER of L.L.B/L.L.M and M.B.B.S/M.D/M.S degree or profession very big and very-very IMPORTANT role of advancement or development, power(DABANG) and business are in social structure.In reference of other profession officers and politicians very – very small role or huge difference COMPARISON than LAW and M.B.B.S/M.D/M.S HINDU RELIGION complicated caste structure of caste development,POWER and business. If individual castes have sufficient number of 10% lawyer M.B.B.S/M.D/M.S the casts benefit of 10% of sufficient number. HINDU RELIGION INDIVIDUAL CASTES SUFFICIENT NUMBER LAWYER WITH M.B.B.S/M.D/M.S DEGREE PROFESSION FACE ALL POLITICAL PROBLEM ARISE IN DEVELOPMENT Its important in other word say it,IN INDIA,HINDU RELIGION GENERAL CASTE (BRHAMAN,BHUMIHAR,RAJPUT,KAYASTH,KSHYATRIYA) or any other caste to now time do huge scale of business ,govt tender,land owner e.t.c .Have not possible of without sufficient no. of LAWYER and M.B.B.S /M.D/M.S degree of individual general castes, HINDU RELIGION,INDIA for the maintain of caste power, advancement /development like huge scale of business ,land owner and govt tender .Without sufficient no.of LAWYER and M.B.B.S/M.D/M.S degree HINDU RELIGION ,general caste/and other huge scale of business,INDIA( due to same of complicated HINDU RELIGION ,CASTE social structure in INDIA) have many factors /issue arises of huge scale business ,huge scale LAND OWNER ,GOVT. TENDER e.t.c.Its have to said very-very big problem or have not possible. Also it have to say in deep of collaboration of one caste to other caste, HINDU RELIGION ,INDIA have sufficient NUMBER of LAWYER and M.B.B.S /M.D/M.S. In some cases it have to seen . Increase of business but it have not increase of own caste power without sufficient no. of L.L.B/L.L.M and M.B.B.S/M.D/M.S degree In under of the self/own HINDU religion (minority CASTES ),INDIA of complicated caste structure face very -very basic problem of life concerned of other then development without sufficient NUMBER of lawyer and M.B.B.S/M.D/M.S DEGREE. Its have not any advantage of more people and its benefit of other profession like politicians and officers .Very-very small chances to join of politicians and officers (few number) two or three)rather then more peoples caste thousands to thousands. It also have to be seen census of India of HINDU RELIGION CASTE development in social structure with time. It have to be seen in INDIA HINDU RELIGION scenario minority caste have to huge benefit in some year join the sufficient NUMBER of lawyer and M.B.B.S/M.D/M.S degree more development like power business complicated caste social structure rather then S.C/S.T join the profession politicians and officers in long to long time /year in same conditions.Also they caste have good manage of land owner in caste participate already in past time land have not exist but acquire rather then S.C and S.T. . It have to understand on the concept of constitution of INDIA in political power increase (In political power hidden of economic power ) of backward caste in HINDU RELIGION reservation of politicians and officers. In the point of the view NORTH INDIA YADAV caste have sufficient NUMBER of L.L.B/L.L.M .Also KURMI caste in BIHAR/JHARKHAND have not sufficient NUMBER but good number of lawyers. Also have some number of M.B.B.S/M.D. NOTE-In the point of view L.L.B/L.L.M and M.B.B.S/M.D/M.S not meaning of only court and medicine practice( ONLY) but also have self business by person occupied the degree more to more effective /efficient due to key point /key master of caste power,business,land owner,govt. tender.But which caste have sufficient NUMBER of lawyer and M.B.B.S /M.D/M.S , by which caste persons LAWYER and M.B.B.S/M.D/M.S degree or professionals occupied have not done self/own business in the point of diplomatic view of hidden of power of doing business(INDUSTRY) NOTE- In the point of view B.TECH/M.TECH and M.B.A have not any role of caste POWER, development and business in HINDU religion,INDIA.But only like a simple job also in simple job arises many complicated issue like Industry demand ,complicated issue from powerful castes e.t.c.But it have not problem of HINDU RELIGION more peoples caste( not minority) , caste in INDIA. NORTTH INDIA YADAV caste have sufficient NUMBER of L.L.B/L.L.M .Also KURMI caste in BIHAR/JHARKHAND have not sufficient NUMBER but good number of lawyers. Also have some number of M.B.B.S/M.D. NOTE-In the point of view L.L.B/L.L.M and M.B.B.S/M.D/M.S not meaning of only court and medicine practice( ONLY) but also have self business by person occupied the degree more to more effective /efficient due to key point /key master of caste power,business,land owner,govt. tender.But which caste have sufficient NUMBER of lawyer and M.B.B.S /M.D/M.S , by which caste persons LAWYER and M.B.B.S/M.D/M.S degree or professionals occupied have not done self/own business in the point of diplomatic view of hidden of power of doing business(INDUSTRY) NOTE- In the point of view B.TECH/M.TECH and M.B.A have not any role of caste POWER, development and business in HINDU religion,INDIA.But only like a simple job also in simple job arises many complicated issue like Industry demand ,complicated issue from powerful castes e.t.c.But it have not problem of HINDU RELIGION more peoples caste( not minority) , caste in INDIA ALSO READ MY ANOTHER BLOGG ,GOOGLE PLUS AND FACE BOOK TOPIC SHARE ALSO READ MY OTHER BLOG AND G PLUS SHARE IN MANY NEWS CHANNEL -BUREUACRACY IN INDIA , IN INDIA HINDU RELIGION INDIVIDUAL CASTES WOMAN SOCIAL EMPOWERMENT ROLE OF SUFFICIENT NUMBER LAWYER AND M.B.BS/M.D./M.D/M.S DEGREE ,GANGSTER COMPOSITION IN INDIA,RESERVATION POLICY IN GOVT TENDER, 5 POWER FUL YOGA MEDITATION POSE ,THE COMPLETE PATH OF YOGA E.T.C

के द्वारा:

BLOG- IN INDIA HINDU RELIGION INDIVIDUAL CASTES/HINDU RELIGION O.B.C WEAKER SECTION/S.C/S.T DEVELOPMENT VERY-VERY BIG ROLE OF SUFFICIENT NUMBER LAWYER AND M.B.B.S/M.D/M.S DEGREE/PROFESSION POVERTY SOLUTION AND BUSINESS(INDUSTRY) ,IN INDIA HINDU RELIGION ,INDIVIDUAL CASTES POVERTY REMOVE ,POWER(DABANG),BUSINESS (INDUSTRY) LAND OWNER ,GOVT TENDER VERY-VERY BIG ROLE OF INDIVIDUAL CASTES SUFFICIENT NUMBER LAWYER AND M.B.B.S/M.D/M.S DEGREE PROFESSION , ALSO READ MU BLOG URL-http://mantusatyam.blogspot.com/2013/08/ ,google plus and face book in many news channel. BY MANTU KUMAR SATYAM, ,Religion-Hindu,Category-O.B.C (Weaker section & minority), caste-Sundi(O.B.C weaker section & minority), SEX-MALE,AGE-29Y Add-s/o.SHIV PRSAD MANDAL, FRONT BAIDYNATH TRADING /HARDWARE,AIRCEL MOBILE TOWER BUILDING, CHOICE EMPORIUM SHOP BUILDING,Near jamuna jour pool, near ramjanki mandir,castair town,SARWAN/SARATH MAIN ROAD, ,DEOGHAR,DISTRICT-DEOGHAR, JHARKHAND-814112,INDIA . MY VOTER ID CARD DETAIL-CONSTITUTION DEOGHAR ASSEMBELY,DIST-DEOGHAR,JHARKHAND, INDIA, VOTER ID CARD NUMBER-MQS5572490,AADHAR CARD ENROLLMENT NUMBER-2017/60236/00184,DATE-10/12/2012 ,TIME-13:43:52,AADHAAR NUMBER-310966907373 ) o . occupation- MSCCRRA study from SMUDE,SYNDICATE HOUSE ,MANIPAL KARNATAK, POST GRADUATE DIPLOMA IN HUMAN RIGHTS FROM INDIAN INSTITUTE OF HUMAN RIGHTS ,NEW DELHI (SESSION-2012-14)(ONE YEAR POST GRADUATE DIPLOMA IN HUMAN RIGHTS COMPLETE)& post graduate diploma in criminal justice and forensic science from Hyderabad university center of distance education(session 2012-13) BLOG DETAIL- In INDIA HINDU RELIGION any caste /INDIVIDUAL CASTES sufficient NUMBER of L.L.B/L.L.M and M.B.B.S/M.D/M.S degree or profession very big and very-very IMPORTANT role of advancement or development, power(DABANG) and business are in social structure.In reference of other profession officers and politicians very - very small role or huge difference COMPARISON than LAW and M.B.B.S/M.D/M.S HINDU RELIGION complicated caste structure of caste development,POWER and business. If individual castes have sufficient number of 10% lawyer M.B.B.S/M.D/M.S the casts benefit of 10% of sufficient number. HINDU RELIGION INDIVIDUAL CASTES SUFFICIENT NUMBER LAWYER WITH M.B.B.S/M.D/M.S DEGREE PROFESSION FACE ALL POLITICAL PROBLEM ARISE IN DEVELOPMENT Its important in other word say it,IN INDIA,HINDU RELIGION GENERAL CASTE (BRHAMAN,BHUMIHAR,RAJPUT,KAYASTH,KSHYATRIYA) or any other caste to now time do huge scale of business ,govt tender,land owner e.t.c .Have not possible of without sufficient no. of LAWYER and M.B.B.S /M.D/M.S degree of individual general castes, HINDU RELIGION,INDIA for the maintain of caste power, advancement /development like huge scale of business ,land owner and govt tender .Without sufficient no.of LAWYER and M.B.B.S/M.D/M.S degree HINDU RELIGION ,general caste/and other huge scale of business,INDIA( due to same of complicated HINDU RELIGION ,CASTE social structure in INDIA) have many factors /issue arises of huge scale business ,huge scale LAND OWNER ,GOVT. TENDER e.t.c.Its have to said very-very big problem or have not possible. Also it have to say in deep of collaboration of one caste to other caste, HINDU RELIGION ,INDIA have sufficient NUMBER of LAWYER and M.B.B.S /M.D/M.S. In some cases it have to seen . Increase of business but it have not increase of own caste power without sufficient no. of L.L.B/L.L.M and M.B.B.S/M.D/M.S degree In under of the self/own HINDU religion (minority CASTES ),INDIA of complicated caste structure face very -very basic problem of life concerned of other then development without sufficient NUMBER of lawyer and M.B.B.S/M.D/M.S DEGREE. Its have not any advantage of more people and its benefit of other profession like politicians and officers .Very-very small chances to join of politicians and officers (few number) two or three)rather then more peoples caste thousands to thousands. It also have to be seen census of India of HINDU RELIGION CASTE development in social structure with time. It have to be seen in INDIA HINDU RELIGION scenario minority caste have to huge benefit in some year join the sufficient NUMBER of lawyer and M.B.B.S/M.D/M.S degree more development like power business complicated caste social structure rather then S.C/S.T join the profession politicians and officers in long to long time /year in same conditions.Also they caste have good manage of land owner in caste participate already in past time land have not exist but acquire rather then S.C and S.T. . It have to understand on the concept of constitution of INDIA in political power increase (In political power hidden of economic power ) of backward caste in HINDU RELIGION reservation of politicians and officers. In the point of the view NORTH INDIA YADAV caste have sufficient NUMBER of L.L.B/L.L.M .Also KURMI caste in BIHAR/JHARKHAND have not sufficient NUMBER but good number of lawyers. Also have some number of M.B.B.S/M.D. NOTE-In the point of view L.L.B/L.L.M and M.B.B.S/M.D/M.S not meaning of only court and medicine practice( ONLY) but also have self business by person occupied the degree more to more effective /efficient due to key point /key master of caste power,business,land owner,govt. tender.But which caste have sufficient NUMBER of lawyer and M.B.B.S /M.D/M.S , by which caste persons LAWYER and M.B.B.S/M.D/M.S degree or professionals occupied have not done self/own business in the point of diplomatic view of hidden of power of doing business(INDUSTRY) NOTE- In the point of view B.TECH/M.TECH and M.B.A have not any role of caste POWER, development and business in HINDU religion,INDIA.But only like a simple job also in simple job arises many complicated issue like Industry demand ,complicated issue from powerful castes e.t.c.But it have not problem of HINDU RELIGION more peoples caste( not minority) , caste in INDIA. NORTTH INDIA YADAV caste have sufficient NUMBER of L.L.B/L.L.M .Also KURMI caste in BIHAR/JHARKHAND have not sufficient NUMBER but good number of lawyers. Also have some number of M.B.B.S/M.D. NOTE-In the point of view L.L.B/L.L.M and M.B.B.S/M.D/M.S not meaning of only court and medicine practice( ONLY) but also have self business by person occupied the degree more to more effective /efficient due to key point /key master of caste power,business,land owner,govt. tender.But which caste have sufficient NUMBER of lawyer and M.B.B.S /M.D/M.S , by which caste persons LAWYER and M.B.B.S/M.D/M.S degree or professionals occupied have not done self/own business in the point of diplomatic view of hidden of power of doing business(INDUSTRY) NOTE- In the point of view B.TECH/M.TECH and M.B.A have not any role of caste POWER, development and business in HINDU religion,INDIA.But only like a simple job also in simple job arises many complicated issue like Industry demand ,complicated issue from powerful castes e.t.c.But it have not problem of HINDU RELIGION more peoples caste( not minority) , caste in INDIA ALSO READ MY ANOTHER BLOGG ,GOOGLE PLUS AND FACE BOOK TOPIC SHARE ALSO READ MY OTHER BLOG AND G PLUS SHARE IN MANY NEWS CHANNEL -BUREUACRACY IN INDIA , IN INDIA HINDU RELIGION INDIVIDUAL CASTES WOMAN SOCIAL EMPOWERMENT ROLE OF SUFFICIENT NUMBER LAWYER AND M.B.BS/M.D./M.D/M.S DEGREE ,GANGSTER COMPOSITION IN INDIA,RESERVATION POLICY IN GOVT TENDER, 5 POWER FUL YOGA MEDITATION POSE ,THE COMPLETE PATH OF YOGA E.T.C

के द्वारा:

OG- IN INDIA HINDU RELIGION INDIVIDUAL CASTES DEVELOPMENT VERY-VERY BIG ROLE OF SUFFICIENT NUMBER LAWYER AND M.B.B.S/M.D/M.S DEGREE/PROFESSION POVERTY SOLUTION AND BUSINESS(INDUSTRY) ,IN INDIA HINDU RELIGION ,INDIVIDUAL CASTES POVERTY REMOVE ,POWER(DABANG),BUSINESS (INDUSTRY) LAND OWNER ,GOVT TENDER VERY-VERY BIG ROLE OF INDIVIDUAL CASTES SUFFICIENT NUMBER LAWYER AND M.B.B.S/M.D/M.S DEGREE PROFESSION , ALSO READ MU BLOG URL-http://mantusatyam.blogspot.com/2013/08/ ,google plus and face book in many news channel. BY MANTU KUMAR SATYAM, ,Religion-Hindu,Category-O.B.C (Weaker section & minority), caste-Sundi(O.B.C weaker section & minority), SEX-MALE,AGE-29Y Add-s/o.SHIV PRSAD MANDAL, FRONT BAIDYNATH TRADING /HARDWARE,AIRCEL MOBILE TOWER BUILDING, CHOICE EMPORIUM SHOP BUILDING,Near jamuna jour pool, near ramjanki mandir,castair town,SARWAN/SARATH MAIN ROAD, ,DEOGHAR,DISTRICT-DEOGHAR, JHARKHAND-814112,INDIA . MY VOTER ID CARD DETAIL-CONSTITUTION DEOGHAR ASSEMBELY,DIST-DEOGHAR,JHARKHAND, INDIA, VOTER ID CARD NUMBER-MQS5572490,AADHAR CARD ENROLLMENT NUMBER-2017/60236/00184,DATE-10/12/2012 ,TIME-13:43:52,AADHAAR NUMBER-310966907373 ) o . occupation- MSCCRRA study from SMUDE,SYNDICATE HOUSE ,MANIPAL KARNATAK, POST GRADUATE DIPLOMA IN HUMAN RIGHTS FROM INDIAN INSTITUTE OF HUMAN RIGHTS ,NEW DELHI (SESSION-2012-14)(ONE YEAR POST GRADUATE DIPLOMA IN HUMAN RIGHTS COMPLETE)& post graduate diploma in criminal justice and forensic science from Hyderabad university center of distance education(session 2012-13) BLOG DETAIL- In INDIA HINDU RELIGION any caste /INDIVIDUAL CASTES sufficient NUMBER of L.L.B/L.L.M and M.B.B.S/M.D/M.S degree or profession very big and very-very IMPORTANT role of advancement or development, power(DABANG) and business are in social structure.In reference of other profession officers and politicians very - very small role or huge difference COMPARISON than LAW and M.B.B.S/M.D/M.S HINDU RELIGION complicated caste structure of caste development,POWER and business. If individual castes have sufficient number of 10% lawyer M.B.B.S/M.D/M.S the casts benefit of 10% of sufficient number. HINDU RELIGION INDIVIDUAL CASTES SUFFICIENT NUMBER LAWYER WITH M.B.B.S/M.D/M.S DEGREE PROFESSION FACE ALL POLITICAL PROBLEM ARISE IN DEVELOPMENT Its important in other word say it,IN INDIA,HINDU RELIGION GENERAL CASTE (BRHAMAN,BHUMIHAR,RAJPUT,KAYASTH,KSHYATRIYA) or any other caste to now time do huge scale of business ,govt tender,land owner e.t.c .Have not possible of without sufficient no. of LAWYER and M.B.B.S /M.D/M.S degree of individual general castes, HINDU RELIGION,INDIA for the maintain of caste power, advancement /development like huge scale of business ,land owner and govt tender .Without sufficient no.of LAWYER and M.B.B.S/M.D/M.S degree HINDU RELIGION ,general caste/and other huge scale of business,INDIA( due to same of complicated HINDU RELIGION ,CASTE social structure in INDIA) have many factors /issue arises of huge scale business ,huge scale LAND OWNER ,GOVT. TENDER e.t.c.Its have to said very-very big problem or have not possible. Also it have to say in deep of collaboration of one caste to other caste, HINDU RELIGION ,INDIA have sufficient NUMBER of LAWYER and M.B.B.S /M.D/M.S. In some cases it have to seen . Increase of business but it have not increase of own caste power without sufficient no. of L.L.B/L.L.M and M.B.B.S/M.D/M.S degree In under of the self/own HINDU religion (minority CASTES ),INDIA of complicated caste structure face very -very basic problem of life concerned of other then development without sufficient NUMBER of lawyer and M.B.B.S/M.D/M.S DEGREE. Its have not any advantage of more people and its benefit of other profession like politicians and officers .Very-very small chances to join of politicians and officers (few number) two or three)rather then more peoples caste thousands to thousands. It also have to be seen census of India of HINDU RELIGION CASTE development in social structure with time. It have to be seen in INDIA HINDU RELIGION scenario minority caste have to huge benefit in some year join the sufficient NUMBER of lawyer and M.B.B.S/M.D/M.S degree more development like power business complicated caste social structure rather then S.C/S.T join the profession politicians and officers in long to long time /year in same conditions.Also they caste have good manage of land owner in caste participate already in past time land have not exist but acquire rather then S.C and S.T. . It have to understand on the concept of constitution of INDIA in political power increase (In political power hidden of economic power ) of backward caste in HINDU RELIGION reservation of politicians and officers. In the point of the view NORTH INDIA YADAV caste have sufficient NUMBER of L.L.B/L.L.M .Also KURMI caste in BIHAR/JHARKHAND have not sufficient NUMBER but good number of lawyers. Also have some number of M.B.B.S/M.D. NOTE-In the point of view L.L.B/L.L.M and M.B.B.S/M.D/M.S not meaning of only court and medicine practice( ONLY) but also have self business by person occupied the degree more to more effective /efficient due to key point /key master of caste power,business,land owner,govt. tender.But which caste have sufficient NUMBER of lawyer and M.B.B.S /M.D/M.S , by which caste persons LAWYER and M.B.B.S/M.D/M.S degree or professionals occupied have not done self/own business in the point of diplomatic view of hidden of power of doing business(INDUSTRY) NOTE- In the point of view B.TECH/M.TECH and M.B.A have not any role of caste POWER, development and business in HINDU religion,INDIA.But only like a simple job also in simple job arises many complicated issue like Industry demand ,complicated issue from powerful castes e.t.c.But it have not problem of HINDU RELIGION more peoples caste( not minority) , caste in INDIA. NORTTH INDIA YADAV caste have sufficient NUMBER of L.L.B/L.L.M .Also KURMI caste in BIHAR/JHARKHAND have not sufficient NUMBER but good number of lawyers. Also have some number of M.B.B.S/M.D. NOTE-In the point of view L.L.B/L.L.M and M.B.B.S/M.D/M.S not meaning of only court and medicine practice( ONLY) but also have self business by person occupied the degree more to more effective /efficient due to key point /key master of caste power,business,land owner,govt. tender.But which caste have sufficient NUMBER of lawyer and M.B.B.S /M.D/M.S , by which caste persons LAWYER and M.B.B.S/M.D/M.S degree or professionals occupied have not done self/own business in the point of diplomatic view of hidden of power of doing business(INDUSTRY) NOTE- In the point of view B.TECH/M.TECH and M.B.A have not any role of caste POWER, development and business in HINDU religion,INDIA.But only like a simple job also in simple job arises many complicated issue like Industry demand ,complicated issue from powerful castes e.t.c.But it have not problem of HINDU RELIGION more peoples caste( not minority) , caste in INDIA ALSO READ MY ANOTHER BLOGG ,GOOGLE PLUS AND FACE BOOK TOPIC SHARE ALSO READ MY OTHER BLOG AND G PLUS SHARE IN MANY NEWS CHANNEL -BUREUACRACY IN INDIA , IN INDIA HINDU RELIGION INDIVIDUAL CASTES WOMAN SOCIAL EMPOWERMENT ROLE OF SUFFICIENT NUMBER LAWYER AND M.B.BS/M.D./M.D/M.S DEGREE ,GANGSTER COMPOSITION IN INDIA,RESERVATION POLICY IN GOVT TENDER, 5 POWER FUL YOGA MEDITATION POSE ,THE COMPLETE PATH OF YOGA E.T.C

के द्वारा:

ATTENTION HINDU RELIGION O.B.C WEAKER SECTION AND S.C/S.T STUDENT /SENIOR PERSONS - IN INDIA,HINDU RELIGION INDIVIDUAL CASTES BIG ROLE OF POVERTY SUFFICIENT NUMBER LAWYER AND M.B.B.S/M.D/M.S DEGREE/PROFFESION INDIVIDUAL CASTES HINDU RELIGION POVERTY SOLUTION AND BUSINESS(INDUSTRY) ,IN INDIA HINDU RELIGION ,INDIVIDUAL CASTES POVERTY REMOVE ,POWER(DPOVERTYABANG),BUSINESS(INDUSTRY) LAND OWNER ,GOVT TENDER VERY-VERY BIG ROLE OF INDIVIDUAL CASTES SUFFICIENT NUMBER LAWYER AND M.B.B.S/M.D/M.S DEGREE PROFESSION ALSO READ MY BLOG-http://mantusatyam.blogspot.com/2013/08/role BY MANTU KUMAR SATYAM, ,Religion-Hindu,Category-O.B.C (Weaker section), caste-Sundi(O.B.C weaker section), SEX-MALE,AGE-29Y Add-s/o.SHIV PRSAD MANDAL, FRONT BAIDYNATH TRADING /HARDWARE,AIRCEL MOBILE TOWER BUILDING, CHOICE EMPORIUM SHOP BUILDING,Near jamuna jour pool, near ramjanki mandir,castair town,SARWAN/SARATH MAIN ROAD, ,DEOGHAR,DISTRICT-DEOGHAR, JHARKHAND-814112,INDIA . MY VOTER ID CARD DETAIL-CONSTITUTION DEOGHAR ASSEMBELY,DIST-DEOGHAR,JHARKHAND, INDIA, VOTER ID CARD NUMBER-MQS5572490,AADHAR CARD ENROLLMENT NUMBER-2017/60236/00184,DATE-10/12/2012 ,TIME-13:43:52,AADHAAR NUMBER-310966907373 ) occupation- MSCCRRA study from SMUDE,SYNDICATE HOUSE ,MANIPAL KARNATAK, POST GRADUATE DIPLOMA IN HUMAN RIGHTS FROM INDIAN INSTITUTE OF HUMAN RIGHTS ,NEW DELHI (SESSION-2012-14,2ND YEAR) IN INDIA,HINDU RELIGION INDIVIDUAL CASTES BIG ROLE OF POVERTY SOLUTION SUFFICIENT NUMBER LAWYER AND M.B.B.S/M.D/M.S DEGREE/PROFESSION OF HINDU RELIGION INDIVIDUAL CASTES POVERTY SOLUTION AND BUSINESS(INDUSTRY) ,IN INDIA HINDU RELIGION ,INDIVIDUAL CASTES POVERTY REMOVE ,POWER(DPOVERTYABANG),BUSINESS(INDUSTRY) LAND OWNER ,GOVT TENDER E.T.C VERY-VERY BIG ROLE OF HINDU RELIGION INDIVIDUAL CASTES SUFFICIENT NUMBER LAWYER AND M.B.B.S/M.D/M.S DEGREE /PROFESSION BLOG DETAIL-concerned ,political,economical and social in reference INDIA ,HINDU RELIGION caste system social structure ,caste power(DABANG),business(INDUSTRY) and development. My content in INDIA like HINDU RELIGION complicated caste system ,caste power (DABANG),development or advancement or business(INDUSTRY) in social structure. In INDIA HINDU RELIGION any caste /INDIVIDUAL CASTES sufficient NUMBER of L.L.B/L.L.M and M.B.B.S/M.D/M.S degree or profession very big and very-very IMPORTANT role of advancement or development, power(DABANG) and business are in social structure.In reference of other profession officers and politicians very – very small role or huge difference COMPARISON than LAW and M.B.B.S/M.D/M.S HINDU RELIGION complicated caste structure of caste development,POWER and business. If individual castes have sufficient number of 10% lawyer M.B.B.S/M.D/M.S the casts benefit of 10% of sufficient number . SUFFICIENT NUMBER LAWYER WITH M.B.B.S/M.D/M.S OF HINDU RELIGION OF INDIVIDUAL CASTES FACE /SOLVE ALL ARISE POLITICAL PROBLEM OF DEVELOPMENT. . Its important in other word say it,IN INDIA,HINDU RELIGION GENERAL CASTE (BRHAMAN,BHUMIHAR,RAJPUT,KAYASTH,KSHYATRIYA) or any other caste to now time do huge scale of business ,govt tender,land owner e.t.c .Have not possible of without sufficient no. of LAWYER and M.B.B.S /M.D/M.S degree of individual general castes, HINDU RELIGION,INDIA for the maintain of caste power, advancement /development like huge scale of business ,land owner and govt tender .Without sufficient no.of LAWYER and M.B.B.S/M.D/M.S degree HINDU RELIGION ,general caste/and other huge scale of business,INDIA( due to same of complicated HINDU RELIGION ,CASTE social structure in INDIA) have many factors /issue arises of huge scale business ,huge scale LAND OWNER ,GOVT. TENDER e.t.c.Its have to said very-very big problem or have not possible. Also it have to say in deep of collaboration of one caste to other caste, HINDU RELIGION ,INDIA have sufficient NUMBER of LAWYER and M.B.B.S /M.D/M.S. In some cases it have to seen . Increase of business but it have not increase of own caste power without sufficient no. of L.L.B/L.L.M and M.B.B.S/M.D/M.S degree In under of the self/own HINDU religion (minority CASTES ),INDIA of complicated caste structure face very -very basic problem of life concerned of other then development without sufficient NUMBER of lawyer and M.B.B.S/M.D/M.S DEGREE. Its have not any advantage of more people and its benefit of other profession like politicians and officers .Very-very small chances to join of politicians and officers (few number) two or three)rather then more peoples caste thousands to thousands. It also have to be seen census of India of HINDU RELIGION CASTE development in social structure with time. It have to be seen in INDIA HINDU RELIGION scenario minority caste have to huge benefit in some year join the sufficient NUMBER of lawyer and M.B.B.S/M.D/M.S degree more development like power business complicated caste social structure rather then S.C/S.T join the profession politicians and officers in long to long time /year in same conditions.Also they caste have sufficient number lawyer acquire good manage of land owner in caste participate already in past time land have not exist but acquire rather then S.C and S.T. . It have to understand on the concept of constitution of INDIA in political power increase (In political power hidden of economic power ) of backward caste in HINDU RELIGION reservation of politicians and officers. In the point of the view NORTH INDIA YADAV caste have sufficient NUMBER of L.L.B/L.L.M .Also KURMI caste in BIHAR/JHARKHAND have not sufficient NUMBER but good number of lawyers. Also have some number of M.B.B.S/M.D. NOTE-In the point of view L.L.B/L.L.M and M.B.B.S/M.D/M.S not meaning of only court and medicine practice( ONLY) but also have self business by person occupied the degree more to more effective /efficient due to key point /key master of caste power,business,land owner,govt. tender.But which caste have sufficient NUMBER of lawyer and M.B.B.S /M.D/M.S , by which caste persons LAWYER and M.B.B.S/M.D/M.S degree or professionals occupied have not done self/own business in the point of diplomatic view of hidden of power of doing business(INDUSTRY) NOTE- In the point of view B.TECH/M.TECH and M.B.A have not any role of caste POWER, development and business in HINDU religion,INDIA.But only like a simple job also in simple job arises many complicated issue like Industry demand ,complicated issue from powerful castes e.t.c.But it have not problem of HINDU RELIGION more peoples caste( not minority) , caste in INDIA. NORTTH INDIA YADAV caste have sufficient NUMBER of L.L.B/L.L.M .Also KURMI caste in BIHAR/JHARKHAND have not sufficient NUMBER but good number of lawyers. Also have some number of M.B.B.S/M.D. NOTE-In the point of view L.L.B/L.L.M and M.B.B.S/M.D/M.S not meaning of only court and medicine practice( ONLY) but also have self business by person occupied the degree more to more effective /efficient due to key point /key master of caste power,business,land owner,govt. tender.But which caste have sufficient NUMBER of lawyer and M.B.B.S /M.D/M.S , by which caste persons LAWYER and M.B.B.S/M.D/M.S degree or professionals occupied have not done self/own business in the point of diplomatic view of hidden of power of doing business(INDUSTRY) NOTE-In the point of view B.TECH/M.TECH and M.B.A have not any role of caste POWER, development and business in HINDU religion,INDIA.But only like a simple job also in simple job arises many complicated issue like Industry demand ,complicated issue from powerful castes e.t.c.But it have not problem of HINDU RELIGION more population caste in INDIA ....... ALSO READ MY OTHER BLOGS , GOOGLE PLUS IN MANY NEWS CHANNEL AND COMMENT IN WWW.JAGRANJUNCTION.COM BUROCRACY IN INDIA ,GANGESTER COMPOSITION IN INDIA ,THE COMPLETE PATH OF YOGA , THE 5 POWERFUL MEDITATION POSE E.T.C........

के द्वारा:

http://mantusatyam.blogspot.com/2013/08/role-IN INDIA,INDIVIDUAL CASTES HINDU RELIGION ROLE OF SUFFICIENT NUMBER LAWYER AND M.B.B.S/M.D/M.S DEGREE/PROFFESION INDIVIDUAL CASTES HINDU RELIGION POVERTY SOLUTION AND BUSINESS(INDUSTRY) ,IN INDIA HINDU RELIGION ,INDIVIDUAL CASTES POVERTY REMOVE ,POWER(DABANG),BUSINESS(INDUSTRY) LAND OWNER ,GOVT TENDER VERY-VERY BIG ROLE OF INDIVIDUAL CASTES HINDU RELIGION SUFFICIENT NUMBER LAWYER AND M.B.B.S/M.D/M.S DEGREE PROFESSION. ALSO IT READ MY BLOG-http://mantusatyam.blogspot.com/2013/08/ AND GOOGLE PLUS SHARE ON NEWS CHANNEL. BY MANTU KUMAR SATYAM, ,Religion-Hindu,Category-O.B.C (Weaker section), caste-Sundi(O.B.C weaker section), SEX-MALE,AGE-29Y Add-S/O,.SHIV PRSAD MANDAL, FRONT BAIDYNATH TRADING /HARDWARE,AIRCEL MOBILE TOWER BUILDING, CHOICE EMPORIUM SHOP BUILDING,Near jamuna jour pool, near ramjanki mandir,castair town,SARWAN/SARATH MAIN ROAD,DEOGHAR,DISTRICT-DEOGHAR, JHARKHAND-814112,INDIA . MY VOTER ID CARD DETAIL-CONSTITUTION DEOGHAR ASSEMBELY,DIST-DEOGHAR,JHARKHAND, INDIA, VOTER ID CARD NUMBER-MQS5572490,AADHAR CARD- (ENROLLMENT NUMBER-2017/60236/00184,DATE-10/12/2012 ,TIME-13:43:52,)AADHAAR NUMBER-310966907373 ) occupation- MSCCRRA study from SMUDE,SYNDICATE HOUSE ,MANIPAL KARNATAK, POST GRADUATE DIPLOMA IN HUMAN RIGHTS FROM INDIAN INSTITUTE OF HUMAN RIGHTS ,NEW DELHI (SESSION-2012-14,2ND YEAR) BLOG – POVERTY SOLUTION IN INDIA,IN INDIA HINDU RELIGION INDIVIDUAL CASTES POVERTY REMOVE ,POWER(DABANG),BUSINESS(INDUSTRY) LAND OWNER ,GOVT TENDER ROLE OF LAWYER AND M.B.B.S/M.D/M.S BLOG DETAIL-concerned ,political,economical and social in reference INDIA ,HINDU RELIGION caste system social structure ,caste power(DABANG),business(INDUSTRY) and development. My content in INDIA like HINDU RELIGION complicated caste system ,caste power (DABANG),development or advancement or business(INDUSTRY) in social structure. In INDIA HINDU RELIGION any caste /INDIVIDUAL CASTES sufficient NUMBER of L.L.B/L.L.M and M.B.B.S/M.D/M.S degree or profession very big and very-very IMPORTANT role of advancement or development, power(DABANG) and business are in social structure.In reference of other profession officers and politicians very – very small role or huge difference COMPARISON than LAW and M.B.B.S/M.D/M.S HINDU RELIGION complicated caste structure of caste development,POWER and business. If individual castes have sufficient number of 10% lawyer M.B.B.S/M.D/M.S the casts benefit of 10% of sufficient number. Its important in other word say it,IN INDIA,HINDU RELIGION GENERAL CASTE (BRHAMAN,BHUMIHAR,RAJPUT,KAYASTH,KSHYATRIYA) or any other caste to now time do huge scale of business ,govt tender,land owner e.t.c .Have not possible of without sufficient no. of LAWYER and M.B.B.S /M.D/M.S degree of individual general castes, HINDU RELIGION,INDIA for the maintain of caste power, advancement /development like huge scale of business ,land owner and govt tender .Without sufficient no.of LAWYER and M.B.B.S/M.D/M.S degree HINDU RELIGION ,general caste/and other huge scale of business,INDIA( due to same of complicated HINDU RELIGION ,CASTE social structure in INDIA) have many factors /issue arises of huge scale business ,huge scale LAND OWNER ,GOVT. TENDER e.t.c.Its have to said very-very big problem or have not possible. Also it have to say in deep of collaboration of one caste to other caste, HINDU RELIGION ,INDIA have sufficient NUMBER of LAWYER and M.B.B.S /M.D/M.S. In some cases it have to seen . Increase of business but it have not increase of own caste power without sufficient no. of L.L.B/L.L.M and M.B.B.S/M.D/M.S degree In under of the self/own HINDU religion (minority CASTES ),INDIA of complicated caste structure face very -very basic problem of life concerned of other then development without sufficient NUMBER of lawyer and M.B.B.S/M.D/M.S DEGREE. Its have not any advantage of more people and its benefit of other profession like politicians and officers .Very-very small chances to join of politicians and officers (few number) two or three)rather then more peoples caste thousands to thousands. It also have to be seen census of India of HINDU RELIGION CASTE development in social structure with time. It have to be seen in INDIA HINDU RELIGION scenario minority caste have to huge benefit in some year join the sufficient NUMBER of lawyer and M.B.B.S/M.D/M.S degree more development like power business complicated caste social structure rather then S.C/S.T join the profession politicians and officers in long to long time /year in same conditions.Also they caste have sufficient number lawyer acquire good manage of land owner in caste participate already in past time land have not exist but acquire rather then S.C and S.T. . It have to understand on the concept of constitution of INDIA in political power increase (In political power hidden of economic power ) of backward caste in HINDU RELIGION reservation of politicians and officers. In the point of the view NORTH INDIA YADAV caste have sufficient NUMBER of L.L.B/L.L.M .Also KURMI caste in BIHAR/JHARKHAND have not sufficient NUMBER but good number of lawyers. Also have some number of M.B.B.S/M.D. NOTE-In the point of view L.L.B/L.L.M and M.B.B.S/M.D/M.S not meaning of only court and medicine practice( ONLY) but also have self business by person occupied the degree more to more effective /efficient due to key point /key master of caste power,business,land owner,govt. tender.But which caste have sufficient NUMBER of lawyer and M.B.B.S /M.D/M.S , by which caste persons LAWYER and M.B.B.S/M.D/M.S degree or professionals occupied have not done self/own business in the point of diplomatic view of hidden of power of doing business(INDUSTRY) NOTE- In the point of view B.TECH/M.TECH and M.B.A have not any role of caste POWER, development and business in HINDU religion,INDIA.But only like a simple job also in simple job arises many complicated issue like Industry demand ,complicated issue from powerful castes e.t.c.But it have not problem of HINDU RELIGION more peoples caste( not minority) , caste in INDIA. NORTTH INDIA YADAV caste have sufficient NUMBER of L.L.B/L.L.M .Also KURMI caste in BIHAR/JHARKHAND have not sufficient NUMBER but good number of lawyers. Also have some number of M.B.B.S/M.D. NOTE-In the point of view L.L.B/L.L.M and M.B.B.S/M.D/M.S not meaning of only court and medicine practice( ONLY) but also have self business by person occupied the degree more to more effective /efficient due to key point /key master of caste power,business,land owner,govt. tender.But which caste have sufficient NUMBER of lawyer and M.B.B.S /M.D/M.S , by which caste persons LAWYER and M.B.B.S/M.D/M.S degree or professionals occupied have not done self/own business in the point of diplomatic view of hidden of power of doing business(INDUSTRY) NOTE- In the point of view B.TECH/M.TECH and M.B.A have not any role of caste POWER, development and business in HINDU religion,INDIA.But only like a simple job also in simple job arises many complicated issue like Industry demand ,complicated issue from powerful castes e.t.c.But it have not problem of HINDU RELIGION more population caste in INDIA

के द्वारा:

http://mantusatyam.blogspot.com/2013/08/role-IN INDIA,INDIVIDUAL CASTES HINDU RELIGION ROLE OF SUFFICIENT NUMBER LAWYER AND M.B.B.S/M.D/M.S DEGREE/PROFFESION INDIVIDUAL CASTES HINDU RELIGION POVERTY SOLUTION AND BUSINESS(INDUSTRY) ,IN INDIA HINDU RELIGION ,INDIVIDUAL CASTES POVERTY REMOVE ,POWER(DPOVERTYABANG),BUSINESS(INDUSTRY) LAND OWNER ,GOVT TENDER VERY-VERY BIG ROLE OF INDIVIDUAL CASTES SUFFICIENT NUMBER LAWYER AND M.B.B.S/M.D/M.S DEGREE PROFESSION. ALSO IT READ MY BLOG-http://mantusatyam.blogspot.com/2013/08/ AND GOOGLE PLUS SHARE ON NEWS CHANNEL. BY MANTU KUMAR SATYAM, ,Religion-Hindu,Category-O.B.C (Weaker section), caste-Sundi(O.B.C weaker section), SEX-MALE,AGE-29Y Add-S/O,.SHIV PRSAD MANDAL, FRONT BAIDYNATH TRADING /HARDWARE,AIRCEL MOBILE TOWER BUILDING, CHOICE EMPORIUM SHOP BUILDING,Near jamuna jour pool, near ramjanki mandir,castair town,SARWAN/SARATH MAIN ROAD,DEOGHAR,DISTRICT-DEOGHAR, JHARKHAND-814112,INDIA . MY VOTER ID CARD DETAIL-CONSTITUTION DEOGHAR ASSEMBELY,DIST-DEOGHAR,JHARKHAND, INDIA, VOTER ID CARD NUMBER-MQS5572490,AADHAR CARD- (ENROLLMENT NUMBER-2017/60236/00184,DATE-10/12/2012 ,TIME-13:43:52,)AADHAAR NUMBER-310966907373 ) occupation- MSCCRRA study from SMUDE,SYNDICATE HOUSE ,MANIPAL KARNATAK, POST GRADUATE DIPLOMA IN HUMAN RIGHTS FROM INDIAN INSTITUTE OF HUMAN RIGHTS ,NEW DELHI (SESSION-2012-14,2ND YEAR) BLOG – POVERTY SOLUTION IN INDIA,IN INDIA HINDU RELIGION INDIVIDUAL CASTES POVERTY REMOVE ,POWER(DABANG),BUSINESS(INDUSTRY) LAND OWNER ,GOVT TENDER ROLE OF LAWYER AND M.B.B.S/M.D/M.S BLOG DETAIL-concerned ,political,economical and social in reference INDIA ,HINDU RELIGION caste system social structure ,caste power(DABANG),business(INDUSTRY) and development. My content in INDIA like HINDU RELIGION complicated caste system ,caste power (DABANG),development or advancement or business(INDUSTRY) in social structure. In INDIA HINDU RELIGION any caste /INDIVIDUAL CASTES sufficient NUMBER of L.L.B/L.L.M and M.B.B.S/M.D/M.S degree or profession very big and very-very IMPORTANT role of advancement or development, power(DABANG) and business are in social structure.In reference of other profession officers and politicians very – very small role or huge difference COMPARISON than LAW and M.B.B.S/M.D/M.S HINDU RELIGION complicated caste structure of caste development,POWER and business. If individual castes have sufficient number of 10% lawyer M.B.B.S/M.D/M.S the casts benefit of 10% of sufficient number. Its important in other word say it,IN INDIA,HINDU RELIGION GENERAL CASTE (BRHAMAN,BHUMIHAR,RAJPUT,KAYASTH,KSHYATRIYA) or any other caste to now time do huge scale of business ,govt tender,land owner e.t.c .Have not possible of without sufficient no. of LAWYER and M.B.B.S /M.D/M.S degree of individual general castes, HINDU RELIGION,INDIA for the maintain of caste power, advancement /development like huge scale of business ,land owner and govt tender .Without sufficient no.of LAWYER and M.B.B.S/M.D/M.S degree HINDU RELIGION ,general caste/and other huge scale of business,INDIA( due to same of complicated HINDU RELIGION ,CASTE social structure in INDIA) have many factors /issue arises of huge scale business ,huge scale LAND OWNER ,GOVT. TENDER e.t.c.Its have to said very-very big problem or have not possible. Also it have to say in deep of collaboration of one caste to other caste, HINDU RELIGION ,INDIA have sufficient NUMBER of LAWYER and M.B.B.S /M.D/M.S. In some cases it have to seen . Increase of business but it have not increase of own caste power without sufficient no. of L.L.B/L.L.M and M.B.B.S/M.D/M.S degree In under of the self/own HINDU religion (minority CASTES ),INDIA of complicated caste structure face very -very basic problem of life concerned of other then development without sufficient NUMBER of lawyer and M.B.B.S/M.D/M.S DEGREE. Its have not any advantage of more people and its benefit of other profession like politicians and officers .Very-very small chances to join of politicians and officers (few number) two or three)rather then more peoples caste thousands to thousands. It also have to be seen census of India of HINDU RELIGION CASTE development in social structure with time. It have to be seen in INDIA HINDU RELIGION scenario minority caste have to huge benefit in some year join the sufficient NUMBER of lawyer and M.B.B.S/M.D/M.S degree more development like power business complicated caste social structure rather then S.C/S.T join the profession politicians and officers in long to long time /year in same conditions.Also they caste have sufficient number lawyer acquire good manage of land owner in caste participate already in past time land have not exist but acquire rather then S.C and S.T. . It have to understand on the concept of constitution of INDIA in political power increase (In political power hidden of economic power ) of backward caste in HINDU RELIGION reservation of politicians and officers. In the point of the view NORTH INDIA YADAV caste have sufficient NUMBER of L.L.B/L.L.M .Also KURMI caste in BIHAR/JHARKHAND have not sufficient NUMBER but good number of lawyers. Also have some number of M.B.B.S/M.D. NOTE-In the point of view L.L.B/L.L.M and M.B.B.S/M.D/M.S not meaning of only court and medicine practice( ONLY) but also have self business by person occupied the degree more to more effective /efficient due to key point /key master of caste power,business,land owner,govt. tender.But which caste have sufficient NUMBER of lawyer and M.B.B.S /M.D/M.S , by which caste persons LAWYER and M.B.B.S/M.D/M.S degree or professionals occupied have not done self/own business in the point of diplomatic view of hidden of power of doing business(INDUSTRY) NOTE- In the point of view B.TECH/M.TECH and M.B.A have not any role of caste POWER, development and business in HINDU religion,INDIA.But only like a simple job also in simple job arises many complicated issue like Industry demand ,complicated issue from powerful castes e.t.c.But it have not problem of HINDU RELIGION more peoples caste( not minority) , caste in INDIA. NORTTH INDIA YADAV caste have sufficient NUMBER of L.L.B/L.L.M .Also KURMI caste in BIHAR/JHARKHAND have not sufficient NUMBER but good number of lawyers. Also have some number of M.B.B.S/M.D. NOTE-In the point of view L.L.B/L.L.M and M.B.B.S/M.D/M.S not meaning of only court and medicine practice( ONLY) but also have self business by person occupied the degree more to more effective /efficient due to key point /key master of caste power,business,land owner,govt. tender.But which caste have sufficient NUMBER of lawyer and M.B.B.S /M.D/M.S , by which caste persons LAWYER and M.B.B.S/M.D/M.S degree or professionals occupied have not done self/own business in the point of diplomatic view of hidden of power of doing business(INDUSTRY) NOTE- In the point of view B.TECH/M.TECH and M.B.A have not any role of caste POWER, development and business in HINDU religion,INDIA.But only like a simple job also in simple job arises many complicated issue like Industry demand ,complicated issue from powerful castes e.t.c.But it have not problem of HINDU RELIGION more population caste in INDIA

के द्वारा:

http://mantusatyam.blogspot.com/2013/08/role-IN INDIA,ROLE OF SUFFICIENT NUMBER LAWYER AND M.B.B.S/M.D/M.S DEGREE/PROFFESION INDIVIDUAL CASTES HINDU RELIGION POVERTY SOLUTION AND BUSINESS(INDUSTRY) ,IN INDIA HINDU RELIGION ,INDIVIDUAL CASTES POVERTY REMOVE ,POWER(DPOVERTYABANG),BUSINESS(INDUSTRY) LAND OWNER ,GOVT TENDER VERY-VERY BIG ROLE OF INDIVIDUAL CASTES SUFFICIENT NUMBER LAWYER AND M.B.B.S/M.D/M.S DEGREE PROFESSION BY MANTU KUMAR SATYAM,Religion-Hindu,Category-O.B.C (Weaker section & minority), caste-Sundi(O.B.C weaker section & minority),Add-s/o.SHIV PRSAD MANDAL,AIRCEL MOBILE TOWER, Near jamuna jour pool, near ramjanki mandir,castair town,SARWAN-MAIN ROAD, ,DEOGHAR,DISTRICT-DEOGHAR, JHARKHAND-814112,INDIA . occupation- MSCCRRA study from SMUDE,SYNDICATE HOUSE ,MANIPAL KARNATAK, POST GRADUATE DIPLOMA IN HUMAN RIGHTS FROM INDIAN INSTITUTE OF HUMAN RIGHTS ,NEW DELHI (SESSION-2012-14)(ONE YEAR POST GRADUATE DIPLOMA IN HUMAN RIGHTS COMPLETE) MY VOTER ID CARD DETAIL-DIST-DEOGHAR,STATE-JHARKHAND,NUMBER-MQS5572490,AADHAAR CARD DETAIL-NUMBER-310966907373(REGST. NUMBER-2017/60236/00184) and pan card number-EBDPS1842G BLOG - POVERTY SOLUTION IN INDIA,IN INDIA HINDU RELIGION INDIVIDUAL CASTES POVERTY REMOVE ,POWER(DABANG),BUSINESS(INDUSTRY) LAND OWNER ,GOVT TENDER ROLE OF LAWYER AND M.B.B.S/M.D/M.S BLOG DETAIL-concerned ,political,economical and social in reference INDIA ,HINDU RELIGION caste system social structure ,caste power(DABANG),business(INDUSTRY) and development. My content in INDIA like HINDU RELIGION complicated caste system ,caste power (DABANG),development or advancement or business(INDUSTRY) in social structure. In INDIA HINDU RELIGION any caste /INDIVIDUAL CASTES sufficient NUMBER of L.L.B/L.L.M and M.B.B.S/M.D/M.S degree or profession very big and very-very IMPORTANT role of advancement or development, power(DABANG) and business are in social structure.In reference of other profession officers and politicians very - very small role or huge difference COMPARISON than LAW and M.B.B.S/M.D/M.S HINDU RELIGION complicated caste structure of caste development,POWER and business. If individual castes have sufficient number of 10% lawyer M.B.B.S/M.D/M.S the casts benefit of 10% of sufficient number. Its important in other word say it,IN INDIA,HINDU RELIGION GENERAL CASTE (BRHAMAN,BHUMIHAR,RAJPUT,KAYASTH,KSHYATRIYA) or any other caste to now time do huge scale of business ,govt tender,land owner e.t.c .Have not possible of without sufficient no. of LAWYER and M.B.B.S /M.D/M.S degree of individual general castes, HINDU RELIGION,INDIA for the maintain of caste power, advancement /development like huge scale of business ,land owner and govt tender .Without sufficient no.of LAWYER and M.B.B.S/M.D/M.S degree HINDU RELIGION ,general caste/and other huge scale of business,INDIA( due to same of complicated HINDU RELIGION ,CASTE social structure in INDIA) have many factors /issue arises of huge scale business ,huge scale LAND OWNER ,GOVT. TENDER e.t.c.Its have to said very-very big problem or have not possible. Also it have to say in deep of collaboration of one caste to other caste, HINDU RELIGION ,INDIA have sufficient NUMBER of LAWYER and M.B.B.S /M.D/M.S. In some cases it have to seen . Increase of business but it have not increase of own caste power without sufficient no. of L.L.B/L.L.M and M.B.B.S/M.D/M.S degree In under of the self/own HINDU religion (minority CASTES ),INDIA of complicated caste structure face very -very basic problem of life concerned of other then development without sufficient NUMBER of lawyer and M.B.B.S/M.D/M.S DEGREE. Its have not any advantage of more people and its benefit of other profession like politicians and officers .Very-very small chances to join of politicians and officers (few number) two or three)rather then more peoples caste thousands to thousands. It also have to be seen census of India of HINDU RELIGION CASTE development in social structure with time. It have to be seen in INDIA HINDU RELIGION scenario minority caste have to huge benefit in some year join the sufficient NUMBER of lawyer and M.B.B.S/M.D/M.S degree more development like power business complicated caste social structure rather then S.C/S.T join the profession politicians and officers in long to long time /year in same conditions.Also they caste have good manage of land owner in caste participate already in past time land have not exist but acquire rather then S.C and S.T. . It have to understand on the concept of constitution of INDIA in political power increase (In political power hidden of economic power ) of backward caste in HINDU RELIGION reservation of politicians and officers. In the point of the view NORTH INDIA YADAV caste have sufficient NUMBER of L.L.B/L.L.M .Also KURMI caste in BIHAR/JHARKHAND have not sufficient NUMBER but good number of lawyers. Also have some number of M.B.B.S/M.D. NOTE-In the point of view L.L.B/L.L.M and M.B.B.S/M.D/M.S not meaning of only court and medicine practice( ONLY) but also have self business by person occupied the degree more to more effective /efficient due to key point /key master of caste power,business,land owner,govt. tender.But which caste have sufficient NUMBER of lawyer and M.B.B.S /M.D/M.S , by which caste persons LAWYER and M.B.B.S/M.D/M.S degree or professionals occupied have not done self/own business in the point of diplomatic view of hidden of power of doing business(INDUSTRY) NOTE- In the point of view B.TECH/M.TECH and M.B.A have not any role of caste POWER, development and business in HINDU religion,INDIA.But only like a simple job also in simple job arises many complicated issue like Industry demand ,complicated issue from powerful castes e.t.c.But it have not problem of HINDU RELIGION more peoples caste( not minority) , caste in INDIA. NORTTH INDIA YADAV caste have sufficient NUMBER of L.L.B/L.L.M .Also KURMI caste in BIHAR/JHARKHAND have not sufficient NUMBER but good number of lawyers. Also have some number of M.B.B.S/M.D. NOTE-In the point of view L.L.B/L.L.M and M.B.B.S/M.D/M.S not meaning of only court and medicine practice( ONLY) but also have self business by person occupied the degree more to more effective /efficient due to key point /key master of caste power,business,land owner,govt. tender.But which caste have sufficient NUMBER of lawyer and M.B.B.S /M.D/M.S , by which caste persons LAWYER and M.B.B.S/M.D/M.S degree or professionals occupied have not done self/own business in the point of diplomatic view of hidden of power of doing business(INDUSTRY) NOTE- In the point of view B.TECH/M.TECH and M.B.A have not any role of caste POWER, development and business in HINDU religion,INDIA.But only like a simple job also in simple job arises many complicated issue like Industry demand ,complicated issue from powerful castes e.t.c.But it have not problem of HINDU RELIGION more POPULATION CASTES in INDIA

के द्वारा:

INDIA GOVT. SHOULD HAVE MODIFIED RESERVATION POLICY IN REFERENCE OF HINDU RELIGION O.B.C CATEGORY BLOG by MANTU KUMAR SATYAM,Religion-Hindu,Category-O.B.C (Weaker section & minority), caste-Sundi(O.B.C weaker section & minority),Add-s/o.SHIV PRSAD MANDAL,AIRCEL MOBILE TOWER, front baidynat hardwre,Near jamuna jour pool, near ramjanki mandir,castair town,SARWAN-MAIN ROAD, ,DEOGHAR,DISTRICT-DEOGHAR, JHARKHAND-814112,INDIA . occupation- MSCCRRA study from SMUDE,SYNDICATE HOUSE ,MANIPAL KARNATAK, POST GRADUATE DIPLOMA IN HUMAN RIGHTS FROM INDIAN INSTITUTE OF HUMAN RIGHTS ,NEW DELHI (SESSION-2012-14)(ONE YEAR POST GRADUATE DIPLOMA IN HUMAN RIGHTS COMPLETE) -INDIA GOVT. SHOULD HAVE MODIFIED RESRVETION POLICY IN REFERENCE OF HINDU RELIGION O.B.C CATEGORY.O.B.C RESEVATION SHOULD HAVE DONE IN HINDU RELIGION O.B.C CATEGORY 4 TO 5 PART .DUE TO IN THE TIME SOME HINDU RELIGION O.B.C CATEGORY CASTES DEVELOPMENT/SOCIAL EMPOWERMENT EQUIVALENT HINDU RELIGION GENRAL CASTES . HINDU RELIGION O.BC CATEGORY WHICH CASTES SOCIAL EMPOWERMENT EQUIVALENT GENRAL CASTES HAVE TO ABOUT COMPLETE BENEFIT RESERVATION POLICY OF INDIA GOVT. DUE TO IN HINDU RELIGION O.B.C RESERVATION QUOATA HUGE LOSS OF SEAT IN UNIVERSITY/ COLLEGE ADMISSION OF LAW AND M.B.B.S LIKE COURSES HAVE INCREASE OF SOCIAL EMPOWERMENT. HINDU RELIGION ,O.B.C WEAKER SECTION WEAKER SECTION CASTES AND O.B.C LESS NUMBER POPULATION CASTES. . ALSO INDIA GOVT. SHOULD HAVE GIVE THE SPECIAL ATTENTION ON RESERVATION POLICY OF HINDU RELIGION O.B.C OF VERY LESS NUMBER POPULATION .

के द्वारा:

IN INDIA,ROLE OF SUFFICIENT NUMBER LAWYER AND M.B.B.S/M.D/M.S DEGREE/PROFFESION INDIVIDUAL CASTES HINDU RELIGION POVERTY SOLUTION AND BUSINESS(INDUSTRY) ,IN INDIA HINDU RELIGION ,INDIVIDUAL CASTES POVERTY REMOVE ,POWER(DPOVERTYABANG),BUSINESS(INDUSTRY) LAND OWNER ,GOVT TENDER VERY-VERY BIG ROLE OF INDIVIDUAL CASTES SUFFICIENT NUMBER LAWYER AND M.B.B.S/M.D/M.S DEGREE PROFESSION BY MANTU KUMAR SATYAM,Religion-Hindu,Category-O.B.C (Weaker section & minority), caste-Sundi(O.B.C weaker section & minority),Add-s/o.SHIV PRSAD MANDAL,AIRCEL MOBILE TOWER, Near jamuna jour pool, near ramjanki mandir,castair town,SARWAN-MAIN ROAD, ,DEOGHAR,DISTRICT-DEOGHAR, JHARKHAND-814112,INDIA . occupation- MSCCRRA study from SMUDE,SYNDICATE HOUSE ,MANIPAL KARNATAK, POST GRADUATE DIPLOMA IN HUMAN RIGHTS FROM INDIAN INSTITUTE OF HUMAN RIGHTS ,NEW DELHI (SESSION-2012-14)(ONE YEAR POST GRADUATE DIPLOMA IN HUMAN RIGHTS COMPLETE)& post graduate diploma in criminal justice and forensic science from Hyderabad university center of distance education(session 2012-13) BLOG - POVERTY SOLUTION IN INDIA,IN INDIA HINDU RELIGION INDIVIDUAL CASTES POVERTY REMOVE ,POWER(DABANG),BUSINESS(INDUSTRY) LAND OWNER ,GOVT TENDER ROLE OF LAWYER AND M.B.B.S/M.D/M.S BLOG DETAIL-concerned ,political,economical and social in reference INDIA ,HINDU RELIGION caste system social structure ,caste power(DABANG),business(INDUSTRY) and development. My content in INDIA like HINDU RELIGION complicated caste system ,caste power (DABANG),development or advancement or business(INDUSTRY) in social structure. In INDIA HINDU RELIGION any caste /INDIVIDUAL CASTES sufficient NUMBER of L.L.B/L.L.M and M.B.B.S/M.D/M.S degree or profession very big and very-very IMPORTANT role of advancement or development, power(DABANG) and business are in social structure.In reference of other profession officers and politicians very - very small role or huge difference COMPARISON than LAW and M.B.B.S/M.D/M.S HINDU RELIGION complicated caste structure of caste development,POWER and business. If individual castes have sufficient number of 10% lawyer M.B.B.S/M.D/M.S the casts benefit of 10% of sufficient number. Its important in other word say it,IN INDIA,HINDU RELIGION GENERAL CASTE (BRHAMAN,BHUMIHAR,RAJPUT,KAYASTH,KSHYATRIYA) or any other caste to now time do huge scale of business ,govt tender,land owner e.t.c .Have not possible of without sufficient no. of LAWYER and M.B.B.S /M.D/M.S degree of individual general castes, HINDU RELIGION,INDIA for the maintain of caste power, advancement /development like huge scale of business ,land owner and govt tender .Without sufficient no.of LAWYER and M.B.B.S/M.D/M.S degree HINDU RELIGION ,general caste/and other huge scale of business,INDIA( due to same of complicated HINDU RELIGION ,CASTE social structure in INDIA) have many factors /issue arises of huge scale business ,huge scale LAND OWNER ,GOVT. TENDER e.t.c.Its have to said very-very big problem or have not possible. Also it have to say in deep of collaboration of one caste to other caste, HINDU RELIGION ,INDIA have sufficient NUMBER of LAWYER and M.B.B.S /M.D/M.S. In some cases it have to seen . Increase of business but it have not increase of own caste power without sufficient no. of L.L.B/L.L.M and M.B.B.S/M.D/M.S degree In under of the self/own HINDU religion (minority CASTES ),INDIA of complicated caste structure face very -very basic problem of life concerned of other then development without sufficient NUMBER of lawyer and M.B.B.S/M.D/M.S DEGREE. Its have not any advantage of more people and its benefit of other profession like politicians and officers .Very-very small chances to join of politicians and officers (few number) two or three)rather then more peoples caste thousands to thousands. It also have to be seen census of India of HINDU RELIGION CASTE development in social structure with time. It have to be seen in INDIA HINDU RELIGION scenario minority caste have to huge benefit in some year join the sufficient NUMBER of lawyer and M.B.B.S/M.D/M.S degree more development like power business complicated caste social structure rather then S.C/S.T join the profession politicians and officers in long to long time /year in same conditions.Also they caste have good manage of land owner in caste participate already in past time land have not exist but acquire rather then S.C and S.T. . It have to understand on the concept of constitution of INDIA in political power increase (In political power hidden of economic power ) of backward caste in HINDU RELIGION reservation of politicians and officers. In the point of the view NORTH INDIA YADAV caste have sufficient NUMBER of L.L.B/L.L.M .Also KURMI caste in BIHAR/JHARKHAND have not sufficient NUMBER but good number of lawyers. Also have some number of M.B.B.S/M.D. NOTE-In the point of view L.L.B/L.L.M and M.B.B.S/M.D/M.S not meaning of only court and medicine practice( ONLY) but also have self business by person occupied the degree more to more effective /efficient due to key point /key master of caste power,business,land owner,govt. tender.But which caste have sufficient NUMBER of lawyer and M.B.B.S /M.D/M.S , by which caste persons LAWYER and M.B.B.S/M.D/M.S degree or professionals occupied have not done self/own business in the point of diplomatic view of hidden of power of doing business(INDUSTRY) NOTE- In the point of view B.TECH/M.TECH and M.B.A have not any role of caste POWER, development and business in HINDU religion,INDIA.But only like a simple job also in simple job arises many complicated issue like Industry demand ,complicated issue from powerful castes e.t.c.But it have not problem of HINDU RELIGION more peoples caste( not minority) , caste in INDIA. NORTTH INDIA YADAV caste have sufficient NUMBER of L.L.B/L.L.M .Also KURMI caste in BIHAR/JHARKHAND have not sufficient NUMBER but good number of lawyers. Also have some number of M.B.B.S/M.D. NOTE-In the point of view L.L.B/L.L.M and M.B.B.S/M.D/M.S not meaning of only court and medicine practice( ONLY) but also have self business by person occupied the degree more to more effective /efficient due to key point /key master of caste power,business,land owner,govt. tender.But which caste have sufficient NUMBER of lawyer and M.B.B.S /M.D/M.S , by which caste persons LAWYER and M.B.B.S/M.D/M.S degree or professionals occupied have not done self/own business in the point of diplomatic view of hidden of power of doing business(INDUSTRY) NOTE- In the point of view B.TECH/M.TECH and M.B.A have not any role of caste POWER, development and business in HINDU religion,INDIA.But only like a simple job also in simple job arises many complicated issue like Industry demand ,complicated issue from powerful castes e.t.c.But it have not problem of HINDU RELIGION more peoples caste( not minority) , caste in INDIA

के द्वारा:

IN INDIA,ROLE OF SUFFICIENT NUMBER LAWYER AND M.B.B.S/M.D/M.S DEGREE/PROFFESION HINDU RELIGION individual castes POVERTY SOLUTION AND BUSINESS(INDUSTRY) ,IN INDIA HINDU RELIGION ,INDIVIDUAL CASTES POVERTY REMOVE ,POWER(DPOVERTYABANG),BUSINESS(INDUSTRY) LAND OWNER ,GOVT TENDER VERY-VERY BIG ROLE OF INDIVIDUAL CASTES SUFFICIENT NUMBER LAWYER AND M.B.B.S/M.D/M.S DEGREE PROFESSION BY MANTU KUMAR SATYAM,Religion-Hindu,Category-O.B.C (Weaker section & minority), caste-Sundi(O.B.C weaker section & minority),Add-s/o.SHIV PRSAD MANDAL,AIRCEL MOBILE TOWER, Near jamuna jour pool, near ramjanki mandir,castair town,SARWAN-MAIN ROAD, ,DEOGHAR,DISTRICT-DEOGHAR, JHARKHAND-814112,INDIA . occupation- MSCCRRA study from SMUDE,SYNDICATE HOUSE ,MANIPAL KARNATAK, POST GRADUATE DIPLOMA IN HUMAN RIGHTS FROM INDIAN INSTITUTE OF HUMAN RIGHTS ,NEW DELHI (SESSION-2012-14)(ONE YEAR POST GRADUATE DIPLOMA IN HUMAN RIGHTS COMPLETE)& post graduate diploma in criminal justice and forensic science from Hyderabad university center of distance education(session 2012-13) BLOG - POVERTY SOLUTION IN INDIA,IN INDIA HINDU RELIGION INDIVIDUAL CASTES POVERTY REMOVE ,POWER(DABANG),BUSINESS(INDUSTRY) LAND OWNER ,GOVT TENDER ROLE OF LAWYER AND M.B.B.S/M.D/M.S BLOG DETAIL-concerned ,political,economical and social in reference INDIA ,HINDU RELIGION caste system social structure ,caste power(DABANG),business(INDUSTRY) and development. My content in INDIA like HINDU RELIGION complicated caste system ,caste power (DABANG),development or advancement or business(INDUSTRY) in social structure. In INDIA HINDU RELIGION any caste /INDIVIDUAL CASTES sufficient NUMBER of L.L.B/L.L.M and M.B.B.S/M.D/M.S degree or profession very big and very-very IMPORTANT role of advancement or development, power(DABANG) and business are in social structure.In reference of other profession officers and politicians very - very small role or huge difference COMPARISON than LAW and M.B.B.S/M.D/M.S HINDU RELIGION complicated caste structure of caste development,POWER and business. If individual castes have sufficient number of 10% lawyer M.B.B.S/M.D/M.S the casts benefit of 10% of sufficient number. Its important in other word say it,IN INDIA,HINDU RELIGION GENERAL CASTE (BRHAMAN,BHUMIHAR,RAJPUT,KAYASTH,KSHYATRIYA) or any other caste to now time do huge scale of business ,govt tender,land owner e.t.c .Have not possible of without sufficient no. of LAWYER and M.B.B.S /M.D/M.S degree of individual general castes, HINDU RELIGION,INDIA for the maintain of caste power, advancement /development like huge scale of business ,land owner and govt tender .Without sufficient no.of LAWYER and M.B.B.S/M.D/M.S degree HINDU RELIGION ,general caste/and other huge scale of business,INDIA( due to same of complicated HINDU RELIGION ,CASTE social structure in INDIA) have many factors /issue arises of huge scale business ,huge scale LAND OWNER ,GOVT. TENDER e.t.c.Its have to said very-very big problem or have not possible. Also it have to say in deep of collaboration of one caste to other caste, HINDU RELIGION ,INDIA have sufficient NUMBER of LAWYER and M.B.B.S /M.D/M.S. In some cases it have to seen . Increase of business but it have not increase of own caste power without sufficient no. of L.L.B/L.L.M and M.B.B.S/M.D/M.S degree In under of the self/own HINDU religion (minority CASTES ),INDIA of complicated caste structure face very -very basic problem of life concerned of other then development without sufficient NUMBER of lawyer and M.B.B.S/M.D/M.S DEGREE. Its have not any advantage of more people and its benefit of other profession like politicians and officers .Very-very small chances to join of politicians and officers (few number) two or three)rather then more peoples caste thousands to thousands. It also have to be seen census of India of HINDU RELIGION CASTE development in social structure with time. It have to be seen in INDIA HINDU RELIGION scenario minority caste have to huge benefit in some year join the sufficient NUMBER of lawyer and M.B.B.S/M.D/M.S degree more development like power business complicated caste social structure rather then S.C/S.T join the profession politicians and officers in long to long time /year in same conditions.Also they caste have good manage of land owner in caste participate already in past time land have not exist but acquire rather then S.C and S.T. . It have to understand on the concept of constitution of INDIA in political power increase (In political power hidden of economic power ) of backward caste in HINDU RELIGION reservation of politicians and officers. In the point of the view NORTH INDIA YADAV caste have sufficient NUMBER of L.L.B/L.L.M .Also KURMI caste in BIHAR/JHARKHAND have not sufficient NUMBER but good number of lawyers. Also have some number of M.B.B.S/M.D. NOTE-In the point of view L.L.B/L.L.M and M.B.B.S/M.D/M.S not meaning of only court and medicine practice( ONLY) but also have self business by person occupied the degree more to more effective /efficient due to key point /key master of caste power,business,land owner,govt. tender.But which caste have sufficient NUMBER of lawyer and M.B.B.S /M.D/M.S , by which caste persons LAWYER and M.B.B.S/M.D/M.S degree or professionals occupied have not done self/own business in the point of diplomatic view of hidden of power of doing business(INDUSTRY) NOTE- In the point of view B.TECH/M.TECH and M.B.A have not any role of caste POWER, development and business in HINDU religion,INDIA.But only like a simple job also in simple job arises many complicated issue like Industry demand ,complicated issue from powerful castes e.t.c.But it have not problem of HINDU RELIGION more peoples caste( not minority) , caste in INDIA. NORTTH INDIA YADAV caste have sufficient NUMBER of L.L.B/L.L.M .Also KURMI caste in BIHAR/JHARKHAND have not sufficient NUMBER but good number of lawyers. Also have some number of M.B.B.S/M.D. NOTE-In the point of view L.L.B/L.L.M and M.B.B.S/M.D/M.S not meaning of only court and medicine practice( ONLY) but also have self business by person occupied the degree more to more effective /efficient due to key point /key master of caste power,business,land owner,govt. tender.But which caste have sufficient NUMBER of lawyer and M.B.B.S /M.D/M.S , by which caste persons LAWYER and M.B.B.S/M.D/M.S degree or professionals occupied have not done self/own business in the point of diplomatic view of hidden of power of doing business(INDUSTRY) NOTE- In the point of view B.TECH/M.TECH and M.B.A have not any role of caste POWER, development and business in HINDU religion,INDIA.But only like a simple job also in simple job arises many complicated issue like Industry demand ,complicated issue from powerful castes e.t.c.But it have not problem of HINDU RELIGION more peoples caste( not minority) , caste in INDIA

के द्वारा:

के द्वारा: udayraj udayraj

IN INDIA,ROLE OF SUFFICIENT NUMBER LAWYER AND M.B.B.S/M.D/M.S DEGREE/PROFFESION INDIVIDUAL CASTES HINDU RELIGION POVERTY SOLUTION AND BUSINESS(INDUSTRY) ,IN INDIA HINDU RELIGION ,INDIVIDUAL CASTES POVERTY REMOVE ,POWER(DPOVERTYABANG),BUSINESS(INDUSTRY) LAND OWNER ,GOVT TENDER VERY-VERY BIG ROLE OF INDIVIDUAL CASTES SUFFICIENT NUMBER LAWYER AND M.B.B.S/M.D/M.S DEGREE PROFESSION BY MANTU KUMAR SATYAM,Religion-Hindu,Category-O.B.C (Weaker section & minority), caste-Sundi(O.B.C weaker section & minority),Add-s/o.SHIV PRSAD MANDAL,AIRCEL MOBILE TOWER, Near jamuna jour pool, near ramjanki mandir,castair town,SARWAN-MAIN ROAD, ,DEOGHAR,DISTRICT-DEOGHAR, JHARKHAND-814112,INDIA . occupation- MSCCRRA study from SMUDE,SYNDICATE HOUSE ,MANIPAL KARNATAK, POST GRADUATE DIPLOMA IN HUMAN RIGHTS FROM INDIAN INSTITUTE OF HUMAN RIGHTS ,NEW DELHI (SESSION-2012-14)(ONE YEAR POST GRADUATE DIPLOMA IN HUMAN RIGHTS COMPLETE)& post graduate diploma in criminal justice and forensic science from Hyderabad university center of distance education(session 2012-13) BLOG - POVERTY SOLUTION IN INDIA,IN INDIA HINDU RELIGION INDIVIDUAL CASTES POVERTY REMOVE ,POWER(DABANG),BUSINESS(INDUSTRY) LAND OWNER ,GOVT TENDER ROLE OF LAWYER AND M.B.B.S/M.D/M.S BLOG DETAIL-concerned ,political,economical and social in reference INDIA ,HINDU RELIGION caste system social structure ,caste power(DABANG),business(INDUSTRY) and development. My content in INDIA like HINDU RELIGION complicated caste system ,caste power (DABANG),development or advancement or business(INDUSTRY) in social structure. In INDIA HINDU RELIGION any caste /INDIVIDUAL CASTES sufficient NUMBER of L.L.B/L.L.M and M.B.B.S/M.D/M.S degree or profession very big and very-very IMPORTANT role of advancement or development, power(DABANG) and business are in social structure.In reference of other profession officers and politicians very - very small role or huge difference COMPARISON than LAW and M.B.B.S/M.D/M.S HINDU RELIGION complicated caste structure of caste development,POWER and business. If individual castes have sufficient number of 10% lawyer M.B.B.S/M.D/M.S the casts benefit of 10% of sufficient number. Its important in other word say it,IN INDIA,HINDU RELIGION GENERAL CASTE (BRHAMAN,BHUMIHAR,RAJPUT,KAYASTH,KSHYATRIYA) or any other caste to now time do huge scale of business ,govt tender,land owner e.t.c .Have not possible of without sufficient no. of LAWYER and M.B.B.S /M.D/M.S degree of individual general castes, HINDU RELIGION,INDIA for the maintain of caste power, advancement /development like huge scale of business ,land owner and govt tender .Without sufficient no.of LAWYER and M.B.B.S/M.D/M.S degree HINDU RELIGION ,general caste/and other huge scale of business,INDIA( due to same of complicated HINDU RELIGION ,CASTE social structure in INDIA) have many factors /issue arises of huge scale business ,huge scale LAND OWNER ,GOVT. TENDER e.t.c.Its have to said very-very big problem or have not possible. Also it have to say in deep of collaboration of one caste to other caste, HINDU RELIGION ,INDIA have sufficient NUMBER of LAWYER and M.B.B.S /M.D/M.S. In some cases it have to seen . Increase of business but it have not increase of own caste power without sufficient no. of L.L.B/L.L.M and M.B.B.S/M.D/M.S degree In under of the self/own HINDU religion (minority CASTES ),INDIA of complicated caste structure face very -very basic problem of life concerned of other then development without sufficient NUMBER of lawyer and M.B.B.S/M.D/M.S DEGREE. Its have not any advantage of more people and its benefit of other profession like politicians and officers .Very-very small chances to join of politicians and officers (few number) two or three)rather then more peoples caste thousands to thousands. It also have to be seen census of India of HINDU RELIGION CASTE development in social structure with time. It have to be seen in INDIA HINDU RELIGION scenario minority caste have to huge benefit in some year join the sufficient NUMBER of lawyer and M.B.B.S/M.D/M.S degree more development like power business complicated caste social structure rather then S.C/S.T join the profession politicians and officers in long to long time /year in same conditions.Also they caste have good manage of land owner in caste participate already in past time land have not exist but acquire rather then S.C and S.T. . It have to understand on the concept of constitution of INDIA in political power increase (In political power hidden of economic power ) of backward caste in HINDU RELIGION reservation of politicians and officers. In the point of the view NORTH INDIA YADAV caste have sufficient NUMBER of L.L.B/L.L.M .Also KURMI caste in BIHAR/JHARKHAND have not sufficient NUMBER but good number of lawyers. Also have some number of M.B.B.S/M.D. NOTE-In the point of view L.L.B/L.L.M and M.B.B.S/M.D/M.S not meaning of only court and medicine practice( ONLY) but also have self business by person occupied the degree more to more effective /efficient due to key point /key master of caste power,business,land owner,govt. tender.But which caste have sufficient NUMBER of lawyer and M.B.B.S /M.D/M.S , by which caste persons LAWYER and M.B.B.S/M.D/M.S degree or professionals occupied have not done self/own business in the point of diplomatic view of hidden of power of doing business(INDUSTRY) NOTE- In the point of view B.TECH/M.TECH and M.B.A have not any role of caste POWER, development and business in HINDU religion,INDIA.But only like a simple job also in simple job arises many complicated issue like Industry demand ,complicated issue from powerful castes e.t.c.But it have not problem of HINDU RELIGION more peoples caste( not minority) , caste in INDIA. NORTTH INDIA YADAV caste have sufficient NUMBER of L.L.B/L.L.M .Also KURMI caste in BIHAR/JHARKHAND have not sufficient NUMBER but good number of lawyers. Also have some number of M.B.B.S/M.D. NOTE-In the point of view L.L.B/L.L.M and M.B.B.S/M.D/M.S not meaning of only court and medicine practice( ONLY) but also have self business by person occupied the degree more to more effective /efficient due to key point /key master of caste power,business,land owner,govt. tender.But which caste have sufficient NUMBER of lawyer and M.B.B.S /M.D/M.S , by which caste persons LAWYER and M.B.B.S/M.D/M.S degree or professionals occupied have not done self/own business in the point of diplomatic view of hidden of power of doing business(INDUSTRY) NOTE- In the point of view B.TECH/M.TECH and M.B.A have not any role of caste POWER, development and business in HINDU religion,INDIA.But only like a simple job also in simple job arises many complicated issue like Industry demand ,complicated issue from powerful castes e.t.c.But it have not problem of HINDU RELIGION more peoples caste( not minority) , caste in INDIA READ MY BLOG http://mantusatyam.blogspot.com/2013/09/in-ind

के द्वारा:

IN INDIA POVERTY SOLUTION AND BUSINESS(INDUSTRY) INDIVIDUAL CASTES HINDU RELIGION ,IN INDIA HINDU RELIGION ,INDIVIDUAL CASTES POVERTY REMOVE ,POWER(DPOVERTYABANG),BUSINESS(INDUSTRY) LAND OWNER ,GOVT TENDER VERY-VERY BIG ROLE OF INDIVIDUAL CASTES SUFFICIENT NUMBER LAWYER AND M.B.B.S/M.D/M.S DEGREE PROFFESSION BY MANTU KUMAR SATYAM,Religion-Hindu,Category-O.B.C (Weaker section & minority), caste-Sundi(O.B.C weaker section & minority),Add-s/o.SHIV PRSAD MANDAL,AIRCEL MOBILE TOWER, Near jamuna jour pool, near ramjanki mandir,castair town,SARWAN-MAIN ROAD, ,DEOGHAR,DISTRICT-DEOGHAR, JHARKHAND-814112,INDIA . occupation- MSCCRRA study from SMUDE,SYNDICATE HOUSE ,MANIPAL KARNATAK, POST GRADUATE DIPLOMA IN HUMAN RIGHTS FROM INDIAN INSTITUTE OF HUMAN RIGHTS ,NEW DELHI (SESSION-2012-14)(ONE YEAR POST GRADUATE DIPLOMA IN HUMAN RIGHTS COMPLETE)& post graduate diploma in criminal justice and forensic science from Hyderabad university center of distance education(session 2012-13) BLOG - POVERTY SOLUTION IN INDIA,IN INDIA HINDU RELIGION INDIVIDUAL CASTES POVERTY REMOVE ,POWER(DABANG),BUSINESS(INDUSTRY) LAND OWNER ,GOVT TENDER ROLE OF LAWYER AND M.B.B.S/M.D/M.S BLOG DETAIL-concerned ,political,economical and social in reference INDIA ,HINDU RELIGION caste system social structure ,caste power(DABANG),business(INDUSTRY) and development. My content in INDIA like HINDU RELIGION complicated caste system ,caste power (DABANG),development or advancement or business(INDUSTRY) in social structure. In INDIA HINDU RELIGION any caste /INDIVIDUAL CASTES sufficient NUMBER of L.L.B/L.L.M and M.B.B.S/M.D/M.S degree or profession very big and very-very IMPORTANT role of advancement or development, power(DABANG) and business are in social structure.In reference of other profession officers and politicians very - very small role or huge difference COMPARISON than LAW and M.B.B.S/M.D/M.S HINDU RELIGION complicated caste structure of caste development,POWER and business. If individual castes have sufficient number of 10% lawyer M.B.B.S/M.D/M.S the casts benefit of 10% of sufficient number. Its important in other word say it,IN INDIA,HINDU RELIGION GENERAL CASTE (BRHAMAN,BHUMIHAR,RAJPUT,KAYASTH,KSHYATRIYA) or any other caste to now time do huge scale of business ,govt tender,land owner e.t.c .Have not possible of without sufficient no. of LAWYER and M.B.B.S /M.D/M.S degree of individual general castes, HINDU RELIGION,INDIA for the maintain of caste power, advancement /development like huge scale of business ,land owner and govt tender .Without sufficient no.of LAWYER and M.B.B.S/M.D/M.S degree HINDU RELIGION ,general caste/and other huge scale of business,INDIA( due to same of complicated HINDU RELIGION ,CASTE social structure in INDIA) have many factors /issue arises of huge scale business ,huge scale LAND OWNER ,GOVT. TENDER e.t.c.Its have to said very-very big problem or have not possible. Also it have to say in deep of collaboration of one caste to other caste, HINDU RELIGION ,INDIA have sufficient NUMBER of LAWYER and M.B.B.S /M.D/M.S. In some cases it have to seen . Increase of business but it have not increase of own caste power without sufficient no. of L.L.B/L.L.M and M.B.B.S/M.D/M.S degree In under of the self/own HINDU religion (minority CASTES ),INDIA of complicated caste structure face very -very basic problem of life concerned of other then development without sufficient NUMBER of lawyer and M.B.B.S/M.D/M.S DEGREE. Its have not any advantage of more people and its benefit of other profession like politicians and officers .Very-very small chances to join of politicians and officers (few number) two or three)rather then more peoples caste thousands to thousands. It also have to be seen census of India of HINDU RELIGION CASTE development in social structure with time. It have to be seen in INDIA HINDU RELIGION scenario minority caste have to huge benefit in some year join the sufficient NUMBER of lawyer and M.B.B.S/M.D/M.S degree more development like power business complicated caste social structure rather then S.C/S.T join the profession politicians and officers in long to long time /year in same conditions.Also they caste have good manage of land owner in caste participate already in past time land have not exist but acquire rather then S.C and S.T. . It have to understand on the concept of constitution of INDIA in political power increase (In political power hidden of economic power ) of backward caste in HINDU RELIGION reservation of politicians and officers. In the point of the view NORTH INDIA YADAV caste have sufficient NUMBER of L.L.B/L.L.M .Also KURMI caste in BIHAR/JHARKHAND have not sufficient NUMBER but good number of lawyers. Also have some number of M.B.B.S/M.D. NOTE-In the point of view L.L.B/L.L.M and M.B.B.S/M.D/M.S not meaning of only court and medicine practice( ONLY) but also have self business by person occupied the degree more to more effective /efficient due to key point /key master of caste power,business,land owner,govt. tender.But which caste have sufficient NUMBER of lawyer and M.B.B.S /M.D/M.S , by which caste persons LAWYER and M.B.B.S/M.D/M.S degree or professionals occupied have not done self/own business in the point of diplomatic view of hidden of power of doing business(INDUSTRY) NOTE- In the point of view B.TECH/M.TECH and M.B.A have not any role of caste POWER, development and business in HINDU religion,INDIA.But only like a simple job also in simple job arises many complicated issue like Industry demand ,complicated issue from powerful castes e.t.c.But it have not problem of HINDU RELIGION more peoples caste( not minority) , caste in INDIA. NORTTH INDIA YADAV caste have sufficient NUMBER of L.L.B/L.L.M .Also KURMI caste in BIHAR/JHARKHAND have not sufficient NUMBER but good number of lawyers. Also have some number of M.B.B.S/M.D. NOTE-In the point of view L.L.B/L.L.M and M.B.B.S/M.D/M.S not meaning of only court and medicine practice( ONLY) but also have self business by person occupied the degree more to more effective /efficient due to key point /key master of caste power,business,land owner,govt. tender.But which caste have sufficient NUMBER of lawyer and M.B.B.S /M.D/M.S , by which caste persons LAWYER and M.B.B.S/M.D/M.S degree or professionals occupied have not done self/own business in the point of diplomatic view of hidden of power of doing business(INDUSTRY) NOTE- In the point of view B.TECH/M.TECH and M.B.A have not any role of caste POWER, development and business in HINDU religion,INDIA.But only like a simple job also in simple job arises many complicated issue like Industry demand ,complicated issue from powerful castes e.t.c.But it have not problem of HINDU RELIGION more peoples caste( not minority) , caste in INDIA.

के द्वारा:

सरहद ने फिर जख्म खाये हैं, देश के पाँच वीर पुंछ से शहीद होकर आए हैं, “ पाकिस्तान और आतंकवादियों की कायराना हरकत जैसे ” कई बयान एक साथ आए है, राजनेताओं से, भारत मे यह एक चलन है , पिछले काफी समय से , जिसे हर विदेशी और आतंकवादी आक्रमण के बाद, राज नेता करते आए है । इतिहास गवाह है, आक्रमणकारी कभी कायर नही कहलाते । कायर तो वो कहलाते हैं जो आक्रमण का मुंह तोड़ जबाब नहीं दे पाते । अगर ये आक्रमण कायरता है, तो पराक्रम क्या है ? पाकिस्तान का बचाव करना, खामोश रहना, या समर्पण करना, अगर यही सच है, तो ये पराक्रम की उल्टी पराकाष्ठा है, और बेहद गैर जिम्मेदाराना है, सच तो ये है कि ऐसे हमलों को कायराना कहना ही कायराना है। क्या हिंदुस्तान इतना कमजोर है ? असहाय है ? लाचार है ? पर दुनियाँ को संदेश तो यही गया है कि यह देश बहुत बदहाल हो गया है । पूरा विश्व जनता है कि पाक है नापाक आक्रमणकारी, और भारत है उतना ही कुख्यात वार्ताकारी । आखिर वार्ता क्यों हो और किसलिए ? अगर हो ... तो सिर्फ इसलिए कि बस .... बहुत हो गया अब बात नहीं हो सकती सीमा पर एक भी और हरकत बर्दाश्त नहीं हो सकती, अब पराक्रम दिखाने का वक्त आ गया है दुश्मन को करारा जबाब देने का वक्त आ गया है पता नहीं ये वोटो की राजनीति है, या शान्ति दूत दिखने का जोश, वे सीमा पर जवानों के सिर भी कलम कर ले जाते है हम फिर भी रहते है खामोश, इससे ज्यादा शर्मनाक स्थिति और कुछ नहीं हो सकती है, पर भारत की राजनीति सत्ता के लिए कुछ भी कर सकती है, एक राजनेता कहते है कि लोग सेना मे शहीद होने के लिए ही जाते है, और इसी की तनख्वाह पाते है, संवेदन शून्य इन नेताओं के बेटे, न तो सेना मे जाते है, और न ही शहीद होते है, वे चाहे देश मे पढे या विदेश मे , इंजीनियर हो या डाक्टर , बनते हैं सिर्फ वोटो के सौदागर, और लाशों पर पैर रख कर, सत्ता की सीढिया चढ जाते हैं , मंत्री हो जाते है शासक बन जाते हैं, आँसुओ से भीगी शहीदो की दहलीजों को और अधिक मर्माहत कर जाते हैं । गुस्से मे उबलते और वेवसी की आग मे जलते शहीदो के इन परिवारो को सांत्वना और सम्मान चाहिए , समूचे देश को इन परिवारों के आँसुओ का और इन शहीदो के बलिदानों का हिसाब चाहिए, ताकि ये बलिदान व्यर्थ न जाय और कभी कमी न हो जाय देश पर जान देने वालों की, और शहीदो के सम्मान की रक्षा करने वालों की । ******* शिव प्रकाश मिश्रा

के द्वारा:

के द्वारा:

सुन्दर लेख, आज मै एक ऐसी रचना लेकर आप सब के सामने उपस्थित हुआ हूँ, जिसे पढ़कर आप सब की आँखे नाम हो जायेगी. और यही हमारे देश की कड़वी सच्चाई भी है, इस कविता के माध्यम से मै ऋषभ शुक्ला, इस समाज का निर्दयी ही सही लेकिन है तो सच. आज हमारे समाज के लोग महिलाओ के प्रती वही पुरानी सोच रखते है जो वह हमेशा रखते आये है, और आगे भी ऐसी ही सोच रखने का इरादा है. गरीब माँ-बाप अपनी बेटियों को बोझ समझते है और वह संतान के रूप में एक बेटा चाहते है, और इसके लिए वह गर्भ में ही जाच के द्वारा उन्हें यदी पता चल गया की गर्भ में बच्ची है तो उसे इस दुनिया में आने से पहले ही मार देते है, उस नन्ही सी जान को जो इस निर्मम दुनिया में आने को बेताब रहती है, उसकी सभी इच्छाओ को भी मार देते है . मै इस कविता के माध्यम से उस छोटी गुडिया के दर्द को आप सब से मुखातिब करने का प्रयत्न कर रहा हूँ. कृपया मेरी गुजारिश है की आप सब इस लिंक को देखे और उसके बारे में कम से कम दो शब्द कहे. यदी कमेंट देने में कोई असुविधा हो तो उसे लाइक करे या वोट करे. http://rushabhshukla.jagranjunction.com/?p=25 शुक्रिया

के द्वारा: ऋषभ शुक्ला ऋषभ शुक्ला

के द्वारा:

बिलकुल सच कहा है कि आइआइटी, आइआइएम, एम्स और केंद्रीय विश्वविद्यालयों जैसे देश के चोटी के शिक्षण संस्थानों में भी दलित छात्रों के साथ भेदभाव होता हैं | गाँधी के चेले भूल गए हैं कि गाँधी ने सितम्बर १९३२ में पूना पैक्ट के समय डॉ० अम्बेडकर से क्या वादा किया था | याद करो गाँधी ने वादा किया था कि सदियों तक हिन्दुओं द्वारा दलितों पर ढहाए गए जुल्म और अत्याचार के लिए आजाद भारत में हिन्दू अपने किये का पश्चाताप करेंगे और छुआछुत जड़ से समाप्त करेंगे | गाँधी ने एक बार कहा था कि आजाद भारत में बकरी और शेर एक घाट पर पानी पियेंगे तो डॉ० अम्बेडकर ने गांघी से पूछा था कि तुम्हारा शेर मांसाहारी होगा या शाकाहारी ? गाँधी ने इस सवाल पर चुप्पी साध ली थी | वाह रे गाँधी और वाह रे गाँधी के चेलो ! गोरे लोगों से तो देश १९४७ में आजाद हो गया परन्तु सदियों से जुल्म -ज्यादती और अत्याचार करने वाले काले लोग आज भी अपने सदियों के गुण नहीं भूले | भारत देश को महान बनाने का सपना देखने वालो जरा सोचो कि जिस देश के करोडो लोग भूखे सोते हों ! जिस देश में करोडो लोगो के पास रहने के लिए झोपडी भी न हो ! तन ढकने के लिए कपडे न हो ! जिस देश में पत्थर की तो पूजा होती हो, पशु की पूजा होती हो, तथा पशु की टट्टी की भी पूजा होती हो और इन्सान के साथ पशु से भी बदतर सलूक किया जाता हो ! जिस देश में छुआछुत का रोग हर इन्सान में हो ! क्या वह देश महान हो सकता है ? धर्मेन्द्र प्रकाश, अध्यक्ष, भारतीय मूलनिवासी संगठन |

के द्वारा:

Dogali Niti -And no one is talking about. Mulayam Singh Yadav is having dogali niti (double stand) and no one is talking about. On one side he opposes FDI in retail while om the other side he announces support for the same government which is implementing it. That too on the same day and same time. If it is not a dogali niti then what it is. It is like saying something and doing something else. How do people support this type of dogala adami, is not understandable. Dogala adami is most dangerous. Even a bad man is better than this. He has a standard phrase. Whenever he want to support to congress due to some other reason, he says "I will support the government to keep communal forces away from power." He never tells the reason, because its not a reason, its a deal. An under-table deal. But this time his deal is made on the 'pait (stomack) of aam adami'. Politics should be on the issues. If you are strongly against a particular issue, you should never support the goivernment implementing it. In fact, Manmohan singh implemented it after getting assurance from Mulayam singh the he will support the government. It is because of him only FDI order could be isued. He can not fool people by mearly saying that he is against it. It is like indirectly supporting FDI while for show purpose he is opposing it. It is like " Mukh me ram bagal me chhuri". O! people of my great country and particularly of Utter Pradesh, do not support this type of dogala aadami as he has hidden 'Churri' to kill you. Everyone know that "Badi machhali, choto machhali ko kha jati hai'. Similarly, big foreign companies will eat away small businessman and shopkeepers. Let us deface dogala persons. Let us oppose FDI. Let us make strong movement against it. Forward it to as many people as possible. Jai small businessman and shopkeepers. Jai Hind. Sharma SK

के द्वारा:

आरक्षण न तो सवर्णों का त्याग है और न पश्चाताप और न ही मजबूरी | मजबूरी का नाम तो कभी महात्मा——हो ही नहीं सकता | क्योंकि महात्मा का लोग अर्थ समझते हैं महान आत्मा और जिसकी और इशारा है वह ——-महात्मा था ही नहीं | आरक्षण यदि सवर्णों का त्याग होता तो दलितों को यह हजारों साल पहले मिल गया होता | आरक्षण यदि सवर्णों का पश्चाताप होता, तो भी यह दलितों को हजारों साल पहले मिल गया होता आरक्षण यदि सवर्णों की मजबूरी होती तो भी यह दलितों को हजारों साल पहले मिल गया होता | आरक्षण यदि मजबूरी का नाम महात्मा——होता तो गाँधी इसका विरोध कभी नहीं करते ! चूँकि दलितों को आरक्षण तो १९३१ में ही अंग्रेजों ने दे दिया था | राजनैतिक आरक्षण तब दिया गया जब दलितों की बराबर की हिस्सेदारी की मांग डॉ बी आर अम्बेडकर ने अंग्रेजों से की थी और अंग्रेजों ने इसे लागु करने का मन भी बना लिया था | किन्तु तथाकथित गाँधी ने सितम्बर १९३२ में आमरण अनशन करके दलितों की हिस्सेदारी की मांग को दरकिनार करा दिया | आरक्षण का विरोध व् समर्थन करने वाले सभी को यह समझना जरूरी है की आखिर आरक्षण क्यों दिया गया ? शायद इस प्रश्न का उत्तर गिने -चुने लोग ही जानते होंगे | मेरे पास इसका उत्तर आज भी है किन्तु मैं इसका उत्तर इस लेख में नहीं देना चाहता | फिर भी ऊपर सुझाये गए मत से मैं सहमत नहीं हूँ क्योंकि जब तक इस देश में जाति व्यवश्था कायम रहेगी तब तक अछूतपन बना रहेगा और जब तक अछूतपन रहेगा तब तक बराबरी नहीं आ सकती ! फिर भी आरक्षण का विरोध करने वालों को याद रखना चाहिये कि केवल राजनैतिक महत्वाकांक्षा की खातिर झूंठ का सहारा क्यों लिया जा रहा है कि प्रमोशन में आरक्षण असवैधानिक है ? उनका यह कहना हास्यापद है कि प्रमोशन में आरक्षण मिलने से जूनियर, सीनियर हो जायेगा और सीनियर, जूनियर हो जायेगा | विदित रहे कि सरकारी नौकरियों में प्रमोशन चरित्र प्रविष्टी के आधार पर होता है अर्थात किसी दलित का प्रमोशन भी तभी होगा जब उसकी चरित्र प्रविष्टी अच्छी होंगी | फिर किसी सामान्य व्यक्ति की योग्यता कैसे प्रभावित हो सकती है ? प्रमोशन में आरक्षण श्री मोहनदास करमचंद गाँधी व् डॉ० भीमराव अम्बेडकर के बीच २३ सितम्बर १९३२ में हुए पूना पैक्ट के अनुसार दलितों का अधिकार है और यह अधिकार मिलना ही चाहिए | साथ ही एस० सी०/एस०टी० की भांति उच्च पदों पर पिछड़े वर्ग का पर्याप्त प्रतिनिधित्व न होने के कारण पिछड़े वर्ग का भी प्रमोशन में आरक्षण का प्राविधान होना चाहिए | प्रमोशन में आरक्षण का विरोध करने वालों को भी सदबुद्धि से दलितों के साथ साथ पिछड़ों को भी प्रमोशन में आरक्षण मिले, यही मांग करनी चाहिए | प्रमोशन में पिछड़े वर्ग को भी आरक्षण मिले इस मांग का पूरा दलित समाज समर्थन कर रहा है | यदि उपरोक्त मांग आरक्षण विरोधियों को अच्छी न लगे तो दूसरा विकल्प है कि देश की धन-धरती, शासन प्रशासन, सेना, न्यायपालिका, व्यापार और मीडिया पर काबिज लोग एक बार दलितों को देश की धन -धरती, शासन प्रशासन, सेना, न्यायपालिका, मीडिया और व्यापार में आबादी के अनुपात में बराबर की हिस्सेदारी दे दो | यदि आरक्षण विरोधियों को दूसरा विकल्प भी अच्छा नहीं लग पा रहा हो तो तीसरा विकल्प है कि फिर पूरे देश में अंतरजातीय विवाह अनिवार्य कर २० साल के अन्दर जाति नाम का समूल नाश कर जाति व्यवस्था ख़त्म कर समता मूलक समाज बना दो | शायद फिर दलितों को प्रमोशन में आरक्षण और नौकरियों में आरक्षण की कोई जरूरत नहीं पड़ेगी | यदि आरक्षण विरोधी उपरोक्त तीनो विकल्प में से कोई भी मानने को तैयार नहीं है तो फिर देश के मूलनिवासी दलितों और पिछड़ों को तीसरी आज़ादी की लड़ाई के लिए तैयार हो जाना चाहिए | -धर्मेन्द्र प्रकाश, अध्यक्ष, भारतीय मूलनिवासी संगठन |

के द्वारा:

आरक्षण न तो सवर्णों का त्याग है और न पश्चाताप और न ही मजबूरी | मजबूरी का नाम तो कभी महात्मा------हो ही नहीं सकता | क्योंकि महात्मा का लोग अर्थ समझते हैं महान आत्मा और जिसकी और इशारा है वह -------महात्मा था ही नहीं | आरक्षण यदि सवर्णों का त्याग होता तो दलितों को यह हजारों साल पहले मिल गया होता | आरक्षण यदि सवर्णों का पश्चाताप होता, तो भी यह दलितों को हजारों साल पहले मिल गया होता आरक्षण यदि सवर्णों की मजबूरी होती तो भी यह दलितों को हजारों साल पहले मिल गया होता | आरक्षण यदि मजबूरी का नाम महात्मा------होता तो गाँधी इसका विरोध कभी नहीं करते ! चूँकि दलितों को आरक्षण तो १९३१ में ही अंग्रेजों ने दे दिया था | राजनैतिक आरक्षण तब दिया गया जब दलितों की बराबर की हिस्सेदारी की मांग डॉ बी आर अम्बेडकर ने अंग्रेजों से की थी और अंग्रेजों ने इसे लागु करने का मन भी बना लिया था | किन्तु तथाकथित गाँधी ने सितम्बर १९३२ में आमरण अनशन करके दलितों की हिस्सेदारी की मांग को दरकिनार करा दिया | आरक्षण का विरोध व् समर्थन करने वाले सभी को यह समझना जरूरी है की आखिर आरक्षण क्यों दिया गया ? शायद इस प्रश्न का उत्तर गिने -चुने लोग ही जानते होंगे | मेरे पास इसका उत्तर आज भी है किन्तु मैं इसका उत्तर इस लेख में नहीं देना चाहता | फिर भी ऊपर सुझाये गए मत से मैं सहमत नहीं हूँ क्योंकि जब तक इस देश में जाति व्यवश्था कायम रहेगी तब तक अछूतपन बना रहेगा और जब तक अछूतपन रहेगा तब तक बराबरी नहीं आ सकती ! फिर भी आरक्षण का विरोध करने वालों को याद रखना चाहिये कि केवल राजनैतिक महत्वाकांक्षा की खातिर झूंठ का सहारा क्यों लिया जा रहा है कि प्रमोशन में आरक्षण असवैधानिक है ? उनका यह कहना हास्यापद है कि प्रमोशन में आरक्षण मिलने से जूनियर, सीनियर हो जायेगा और सीनियर, जूनियर हो जायेगा | विदित रहे कि सरकारी नौकरियों में प्रमोशन चरित्र प्रविष्टी के आधार पर होता है अर्थात किसी दलित का प्रमोशन भी तभी होगा जब उसकी चरित्र प्रविष्टी अच्छी होंगी | फिर किसी सामान्य व्यक्ति की योग्यता कैसे प्रभावित हो सकती है ? प्रमोशन में आरक्षण श्री मोहनदास करमचंद गाँधी व् डॉ० भीमराव अम्बेडकर के बीच २३ सितम्बर १९३२ में हुए पूना पैक्ट के अनुसार दलितों का अधिकार है और यह अधिकार मिलना ही चाहिए | साथ ही एस० सी०/एस०टी० की भांति उच्च पदों पर पिछड़े वर्ग का पर्याप्त प्रतिनिधित्व न होने के कारण पिछड़े वर्ग का भी प्रमोशन में आरक्षण का प्राविधान होना चाहिए | प्रमोशन में आरक्षण का विरोध करने वालों को भी सदबुद्धि से दलितों के साथ साथ पिछड़ों को भी प्रमोशन में आरक्षण मिले, यही मांग करनी चाहिए | प्रमोशन में पिछड़े वर्ग को भी आरक्षण मिले इस मांग का पूरा दलित समाज समर्थन कर रहा है | यदि उपरोक्त मांग आरक्षण विरोधियों को अच्छी न लगे तो दूसरा विकल्प है कि देश की धन-धरती, शासन प्रशासन, सेना, न्यायपालिका, व्यापार और मीडिया पर काबिज लोग एक बार दलितों को देश की धन -धरती, शासन प्रशासन, सेना, न्यायपालिका, मीडिया और व्यापार में आबादी के अनुपात में बराबर की हिस्सेदारी दे दो |   यदि आरक्षण विरोधियों को दूसरा विकल्प भी अच्छा नहीं लग पा रहा हो तो तीसरा विकल्प है कि फिर पूरे देश में अंतरजातीय विवाह अनिवार्य कर २० साल के अन्दर जाति नाम का समूल नाश कर जाति व्यवस्था ख़त्म कर समता मूलक समाज बना दो | शायद फिर दलितों को प्रमोशन में आरक्षण और नौकरियों में आरक्षण की कोई जरूरत नहीं पड़ेगी | यदि आरक्षण विरोधी उपरोक्त तीनो विकल्प में से कोई भी मानने को तैयार नहीं है तो फिर देश के मूलनिवासी दलितों और पिछड़ों को तीसरी आज़ादी की लड़ाई के लिए तैयार हो जाना चाहिए | -धर्मेन्द्र प्रकाश, अध्यक्ष, भारतीय मूलनिवासी संगठन |

के द्वारा:

आरक्षण न तो सवर्णों का त्याग है और न पश्चाताप और न ही मजबूरी | मजबूरी का नाम तो कभी महात्मा------हो ही नहीं सकता | क्योंकि महात्मा का लोग अर्थ समझते हैं महान आत्मा और जिसकी और इशारा है वह -------महात्मा था ही नहीं | आरक्षण यदि सवर्णों का त्याग होता तो दलितों को यह हजारों साल पहले मिल गया होता | आरक्षण यदि सवर्णों का पश्चाताप होता, तो भी यह दलितों को हजारों साल पहले मिल गया होता आरक्षण यदि सवर्णों की मजबूरी होती तो भी यह दलितों को हजारों साल पहले मिल गया होता | आरक्षण यदि मजबूरी का नाम महात्मा------होता तो गाँधी इसका विरोध कभी नहीं करते ! चूँकि दलितों को आरक्षण तो १९३१ में ही अंग्रेजों ने दे दिया था | राजनैतिक आरक्षण तब दिया गया जब दलितों की बराबर की हिस्सेदारी की मांग डॉ बी आर अम्बेडकर ने अंग्रेजों से की थी और अंग्रेजों ने इसे लागु करने का मन भी बना लिया था | किन्तु तथाकथित गाँधी ने सितम्बर १९३२ में आमरण अनशन करके दलितों की हिस्सेदारी की मांग को दरकिनार करा दिया | आरक्षण का विरोध व् समर्थन करने वाले सभी को यह समझना जरूरी है की आखिर आरक्षण क्यों दिया गया ? शायद इस प्रश्न का उत्तर गिने -चुने लोग ही जानते होंगे | मेरे पास इसका उत्तर आज भी है किन्तु मैं इसका उत्तर इस लेख में नहीं देना चाहता | फिर भी ऊपर सुझाये गए मत से मैं सहमत नहीं हूँ क्योंकि जब तक इस देश में जाति व्यवश्था कायम रहेगी तब तक अछूतपन बना रहेगा और जब तक अछूतपन रहेगा तब तक बराबरी नहीं आ सकती ! फिर भी आरक्षण का विरोध करने वालों को याद रखना चाहिये कि केवल राजनैतिक महत्वाकांक्षा की खातिर झूंठ का सहारा क्यों लिया जा रहा है कि प्रमोशन में आरक्षण असवैधानिक है ? उनका यह कहना हास्यापद है कि प्रमोशन में आरक्षण मिलने से जूनियर, सीनियर हो जायेगा और सीनियर, जूनियर हो जायेगा | विदित रहे कि सरकारी नौकरियों में प्रमोशन चरित्र प्रविष्टी के आधार पर होता है अर्थात किसी दलित का प्रमोशन भी तभी होगा जब उसकी चरित्र प्रविष्टी अच्छी होंगी | फिर किसी सामान्य व्यक्ति की योग्यता कैसे प्रभावित हो सकती है ? प्रमोशन में आरक्षण श्री मोहनदास करमचंद गाँधी व् डॉ० भीमराव अम्बेडकर के बीच २३ सितम्बर १९३२ में हुए पूना पैक्ट के अनुसार दलितों का अधिकार है और यह अधिकार मिलना ही चाहिए | साथ ही एस० सी०/एस०टी० की भांति उच्च पदों पर पिछड़े वर्ग का पर्याप्त प्रतिनिधित्व न होने के कारण पिछड़े वर्ग का भी प्रमोशन में आरक्षण का प्राविधान होना चाहिए | प्रमोशन में आरक्षण का विरोध करने वालों को भी सदबुद्धि से दलितों के साथ साथ पिछड़ों को भी प्रमोशन में आरक्षण मिले, यही मांग करनी चाहिए | प्रमोशन में पिछड़े वर्ग को भी आरक्षण मिले इस मांग का पूरा दलित समाज समर्थन कर रहा है | यदि उपरोक्त मांग आरक्षण विरोधियों को अच्छी न लगे तो दूसरा विकल्प है कि देश की धन-धरती, शासन प्रशासन, सेना, न्यायपालिका, व्यापार और मीडिया पर काबिज लोग एक बार दलितों को देश की धन -धरती, शासन प्रशासन, सेना, न्यायपालिका, मीडिया और व्यापार में आबादी के अनुपात में बराबर की हिस्सेदारी दे दो |   यदि आरक्षण विरोधियों को दूसरा विकल्प भी अच्छा नहीं लग पा रहा हो तो तीसरा विकल्प है कि फिर पूरे देश में अंतरजातीय विवाह अनिवार्य कर २० साल के अन्दर जाति नाम का समूल नाश कर जाति व्यवस्था ख़त्म कर समता मूलक समाज बना दो | शायद फिर दलितों को प्रमोशन में आरक्षण और नौकरियों में आरक्षण की कोई जरूरत नहीं पड़ेगी | यदि आरक्षण विरोधी उपरोक्त तीनो विकल्प में से कोई भी मानने को तैयार नहीं है तो फिर देश के मूलनिवासी दलितों और पिछड़ों को तीसरी आज़ादी की लड़ाई के लिए तैयार हो जाना चाहिए | -धर्मेन्द्र प्रकाश, अध्यक्ष, भारतीय मूलनिवासी संगठन |

के द्वारा:

आरक्षण न तो सवर्णों का त्याग है और न पश्चाताप और न ही मजबूरी | मजबूरी का नाम तो कभी महात्मा------हो ही नहीं सकता | क्योंकि महात्मा का लोग अर्थ समझते हैं महान आत्मा और जिसकी और इशारा है वह -------महात्मा था ही नहीं | आरक्षण यदि सवर्णों का त्याग होता तो दलितों को यह हजारों साल पहले मिल गया होता | आरक्षण यदि सवर्णों का पश्चाताप होता, तो भी यह दलितों को हजारों साल पहले मिल गया होता आरक्षण यदि सवर्णों की मजबूरी होती तो भी यह दलितों को हजारों साल पहले मिल गया होता | आरक्षण यदि मजबूरी का नाम महात्मा------होता तो गाँधी इसका विरोध कभी नहीं करते ! चूँकि दलितों को आरक्षण तो १९३१ में ही अंग्रेजों ने दे दिया था | राजनैतिक आरक्षण तब दिया गया जब दलितों की बराबर की हिस्सेदारी की मांग डॉ बी आर अम्बेडकर ने अंग्रेजों से की थी और अंग्रेजों ने इसे लागु करने का मन भी बना लिया था | किन्तु तथाकथित गाँधी ने सितम्बर १९३२ में आमरण अनशन करके दलितों की हिस्सेदारी की मांग को दरकिनार करा दिया | आरक्षण का विरोध व् समर्थन करने वाले सभी को यह समझना जरूरी है की आखिर आरक्षण क्यों दिया गया ? शायद इस प्रश्न का उत्तर गिने -चुने लोग ही जानते होंगे | मेरे पास इसका उत्तर आज भी है किन्तु मैं इसका उत्तर इस लेख में नहीं देना चाहता | फिर भी ऊपर सुझाये गए मत से मैं सहमत नहीं हूँ क्योंकि जब तक इस देश में जाति व्यवश्था कायम रहेगी तब तक अछूतपन बना रहेगा और जब तक अछूतपन रहेगा तब तक बराबरी नहीं आ सकती ! फिर भी आरक्षण का विरोध करने वालों को याद रखना चाहिये कि केवल राजनैतिक महत्वाकांक्षा की खातिर झूंठ का सहारा क्यों लिया जा रहा है कि प्रमोशन में आरक्षण असवैधानिक है ? उनका यह कहना हास्यापद है कि प्रमोशन में आरक्षण मिलने से जूनियर, सीनियर हो जायेगा और सीनियर, जूनियर हो जायेगा | विदित रहे कि सरकारी नौकरियों में प्रमोशन चरित्र प्रविष्टी के आधार पर होता है अर्थात किसी दलित का प्रमोशन भी तभी होगा जब उसकी चरित्र प्रविष्टी अच्छी होंगी | फिर किसी सामान्य व्यक्ति की योग्यता कैसे प्रभावित हो सकती है ? प्रमोशन में आरक्षण श्री मोहनदास करमचंद गाँधी व् डॉ० भीमराव अम्बेडकर के बीच २३ सितम्बर १९३२ में हुए पूना पैक्ट के अनुसार दलितों का अधिकार है और यह अधिकार मिलना ही चाहिए | साथ ही एस० सी०/एस०टी० की भांति उच्च पदों पर पिछड़े वर्ग का पर्याप्त प्रतिनिधित्व न होने के कारण पिछड़े वर्ग का भी प्रमोशन में आरक्षण का प्राविधान होना चाहिए | प्रमोशन में आरक्षण का विरोध करने वालों को भी सदबुद्धि से दलितों के साथ साथ पिछड़ों को भी प्रमोशन में आरक्षण मिले, यही मांग करनी चाहिए | प्रमोशन में पिछड़े वर्ग को भी आरक्षण मिले इस मांग का पूरा दलित समाज समर्थन कर रहा है | यदि उपरोक्त मांग आरक्षण विरोधियों को अच्छी न लगे तो दूसरा विकल्प है कि देश की धन-धरती, शासन प्रशासन, सेना, न्यायपालिका, व्यापार और मीडिया पर काबिज लोग एक बार दलितों को देश की धन -धरती, शासन प्रशासन, सेना, न्यायपालिका, मीडिया और व्यापार में आबादी के अनुपात में बराबर की हिस्सेदारी दे दो |   यदि आरक्षण विरोधियों को दूसरा विकल्प भी अच्छा नहीं लग पा रहा हो तो तीसरा विकल्प है कि फिर पूरे देश में अंतरजातीय विवाह अनिवार्य कर २० साल के अन्दर जाति नाम का समूल नाश कर जाति व्यवस्था ख़त्म कर समता मूलक समाज बना दो | शायद फिर दलितों को प्रमोशन में आरक्षण और नौकरियों में आरक्षण की कोई जरूरत नहीं पड़ेगी | यदि आरक्षण विरोधी उपरोक्त तीनो विकल्प में से कोई भी मानने को तैयार नहीं है तो फिर देश के मूलनिवासी दलितों और पिछड़ों को तीसरी आज़ादी की लड़ाई के लिए तैयार हो जाना चाहिए | -धर्मेन्द्र प्रकाश, अध्यक्ष, भारतीय मूलनिवासी संगठन |

के द्वारा:

आरक्षण न तो सवर्णों का त्याग है और न पश्चाताप और न ही मजबूरी | मजबूरी का नाम तो कभी महात्मा------हो ही नहीं सकता | क्योंकि महात्मा का लोग अर्थ समझते हैं महान आत्मा और जिसकी और इशारा है वह -------महात्मा था ही नहीं | आरक्षण यदि सवर्णों का त्याग होता तो दलितों को यह हजारों साल पहले मिल गया होता | आरक्षण यदि सवर्णों का पश्चाताप होता, तो भी यह दलितों को हजारों साल पहले मिल गया होता आरक्षण यदि सवर्णों की मजबूरी होती तो भी यह दलितों को हजारों साल पहले मिल गया होता | आरक्षण यदि मजबूरी का नाम महात्मा------होता तो गाँधी इसका विरोध कभी नहीं करते ! चूँकि दलितों को आरक्षण तो १९३१ में ही अंग्रेजों ने दे दिया था | राजनैतिक आरक्षण तब दिया गया जब दलितों की बराबर की हिस्सेदारी की मांग डॉ बी आर अम्बेडकर ने अंग्रेजों से की थी और अंग्रेजों ने इसे लागु करने का मन भी बना लिया था | किन्तु तथाकथित गाँधी ने सितम्बर १९३२ में आमरण अनशन करके दलितों की हिस्सेदारी की मांग को दरकिनार करा दिया | आरक्षण का विरोध व् समर्थन करने वाले सभी को यह समझना जरूरी है की आखिर आरक्षण क्यों दिया गया ? शायद इस प्रश्न का उत्तर गिने -चुने लोग ही जानते होंगे | मेरे पास इसका उत्तर आज भी है किन्तु मैं इसका उत्तर इस लेख में नहीं देना चाहता | फिर भी ऊपर सुझाये गए मत से मैं सहमत नहीं हूँ क्योंकि जब तक इस देश में जाति व्यवश्था कायम रहेगी तब तक अछूतपन बना रहेगा और जब तक अछूतपन रहेगा तब तक बराबरी नहीं आ सकती ! फिर भी आरक्षण का विरोध करने वालों को याद रखना चाहिये कि केवल राजनैतिक महत्वाकांक्षा की खातिर झूंठ का सहारा क्यों लिया जा रहा है कि प्रमोशन में आरक्षण असवैधानिक है ? उनका यह कहना हास्यापद है कि प्रमोशन में आरक्षण मिलने से जूनियर, सीनियर हो जायेगा और सीनियर, जूनियर हो जायेगा | विदित रहे कि सरकारी नौकरियों में प्रमोशन चरित्र प्रविष्टी के आधार पर होता है अर्थात किसी दलित का प्रमोशन भी तभी होगा जब उसकी चरित्र प्रविष्टी अच्छी होंगी | फिर किसी सामान्य व्यक्ति की योग्यता कैसे प्रभावित हो सकती है ? प्रमोशन में आरक्षण श्री मोहनदास करमचंद गाँधी व् डॉ० भीमराव अम्बेडकर के बीच २३ सितम्बर १९३२ में हुए पूना पैक्ट के अनुसार दलितों का अधिकार है और यह अधिकार मिलना ही चाहिए | साथ ही एस० सी०/एस०टी० की भांति उच्च पदों पर पिछड़े वर्ग का पर्याप्त प्रतिनिधित्व न होने के कारण पिछड़े वर्ग का भी प्रमोशन में आरक्षण का प्राविधान होना चाहिए | प्रमोशन में आरक्षण का विरोध करने वालों को भी सदबुद्धि से दलितों के साथ साथ पिछड़ों को भी प्रमोशन में आरक्षण मिले, यही मांग करनी चाहिए | प्रमोशन में पिछड़े वर्ग को भी आरक्षण मिले इस मांग का पूरा दलित समाज समर्थन कर रहा है | यदि उपरोक्त मांग आरक्षण विरोधियों को अच्छी न लगे तो दूसरा विकल्प है कि देश की धन-धरती, शासन प्रशासन, सेना, न्यायपालिका, व्यापार और मीडिया पर काबिज लोग एक बार दलितों को देश की धन -धरती, शासन प्रशासन, सेना, न्यायपालिका, मीडिया और व्यापार में आबादी के अनुपात में बराबर की हिस्सेदारी दे दो |   यदि आरक्षण विरोधियों को दूसरा विकल्प भी अच्छा नहीं लग पा रहा हो तो तीसरा विकल्प है कि फिर पूरे देश में अंतरजातीय विवाह अनिवार्य कर २० साल के अन्दर जाति नाम का समूल नाश कर जाति व्यवस्था ख़त्म कर समता मूलक समाज बना दो | शायद फिर दलितों को प्रमोशन में आरक्षण और नौकरियों में आरक्षण की कोई जरूरत नहीं पड़ेगी | यदि आरक्षण समर्थक उपरोक्त तीनो विकल्प में से कोई भी मानने को तैयार नहीं है तो फिर देश के मूलनिवासी दलितों और पिछड़ों को तीसरी आज़ादी की लड़ाई के लिए तैयार हो जाना चाहिए | -धर्मेन्द्र प्रकाश, अध्यक्ष, भारतीय मूलनिवासी संगठन |

के द्वारा:

मित्र भाजपा की गलत नीतिमोदी को भी ले डूबेंगी  भाजपा के वोटर सिर्फ और सिर्फ हिन्दू  थेकशमीर आदि मे हिन्दुओ के लगातार  उत्पीडन सेलोगो मे मायूसी थी साथ ही कांग्रेस की  गलत  नीति से तंग आ कर भाजपा की  ओर झुकाव हुआ पर भाजपा ने निराश किया  एक हफता पोप रखा 16 करोड खरचे मुसलमान राष्ट्रपति बनायाजिस पोलिसी से तंग थे  उसी पर   पिल पडे नौकरी उडादीमहकमेखत्मकर दिये ब्याजघटादियासरकारी जायदाद बेच दी  आयात खोल दिया पंजाब मे किसी कोमुआवजा नही मिला लोयल अफसर हरास हुए  कहते हैं  देस ने तरकी की की होगी हिन्दुओ को क्या मिला एक मोदी था जिसने हिन्दू स्वाभिमान को  जीवित रखाउसे अटल बुहारी कभी कलंक कहता तो कभी राज धरम निभाने को बेचारा अकेला लडा उस बुहारी की गलत नीति से भाजपा हार गईचाण्डाल चौकडीजसवन्त यसवन्त महाजन फरनाडीज  अडवानी ने सोचा हिन्दूतो गुलाम हो ही गये अब मुसलमानो को साधो हिन्दू ही बिदक  गये  अगर आपका कोई  भाजपा मित्र हो तो उसे बता देना  अडवानी को अलग से भेज  रहाहूं

के द्वारा:

मित्र भाजपा की गलत नीतिमोदी को भी ले डूबेंगी  भाजपा के वोटर सिर्फ और सिर्फ हिन्दू थे  कशमीर आदि मे हिन्दुओ के लगातार  उत्पीडन सेलोगो मे मायूसी थी साथ ही कांग्रेस की गलत  नीति से तंग आ कर भाजपा की  ओर झुकाव हुआ पर भाजपा ने निराश किया एक हफता पोप रखा 16 करोड खरचे  मुसलमान राष्ट्रपति बनायाजिस पोलिसी से तंग थे उसी पर   पिल पडे नौकरी उडादी महकमे खत्म कर दिये ब्याजघटादियासरकारी जायदाद बेच दी आयात खोल दिया पंजाब मे किसी कोमुआवजा नही मिला लोयल अफसर हरास हुए  कहते हैं देस ने तरकी की की होगी  हिन्दुओ को क्या मिला एक मोदी था जिसने हिन्दू स्वाभिमान को जीवित रखाउसे अटल बुहारी कभी कलंक  कहता तो कभी राज धरम निभाने को बेचारा अकेला लडाउस बुहारी की गलत नीति से भाजपा हार गईचाण्डाल चौकडीजसवन्त यसवन्त महाजन फरनाडीज अडवानी ने सोचा हिन्दूतो गुलाम हो ही गये अब मुसलमानो को साधो हिन्दू ही बिदक गये   अगर आपका कोई  भाजपा मित्र हो तो उसे बता देना  अडवानी को अलग से भेज  रहाहूं

के द्वारा:

के द्वारा:

माननीय श्री मोदी जी इस देश कि धड़कन और विकास पुरुष कि महान मिसाल है.कांग्रेस के लोग मोदी जी कि बढ़ती लोकप्रियता के कारण घबरा गई है उन्हे लगता है कि मोदी जी दिल्ली आ गये तो अपनी वाट लग जायेगी.। देश के सभी भाईयो से में अपील करता हु कि आप2014में जी तोड़ मेहनत करके बी.जे.पी. को अपने मकसद में सफ़ल बनाना है.आप यह मत सोचना कि मेरे एक वोट से क्या फ़र्क पड़ेगा.एक-एक वोट2014में बहुत किमती है.यहां लोकसभा चुनाव कि बात नही होगी अपनी इज्ज्त का सवाल है.नही तो आने वाली पिढ़ी का क्या हाल होगा आप सोच सकते है.आधे से ज्यादा इस देश को कांग्रेस ने बेच दिया है और साथ में धर्म कि वोट बैंक...क्या आपको लगता नही कि इस देश को कहां धकेल रही है?

के द्वारा:

पाकिस्तान की बुनियाद अंग्रेजों के इशारे पर और दार - उल - इस्लाम और जिहाद के फल्सफे पर की राखी गई थी | कैसे कत्ले-आम के बाद नंगा कर हिन्दू - सिख औरतों के जलूस निकाले गए थे | ' मै न भूलूंगा - मै न भूलूंगी | उस दिन पाकिस्तान का नापाक चेहरा सारी दुनियां के सामने था | जिस थाली में खाना उसी में छेद करना इस्लाम की फितरत है | क्या किसी भी इस्लामिक देश में मुक़म्मल लोकतंत्र और आजादी है | कहीं ट्यूनिसिया, लीबिया, सोमालिया, मिस्र, इराक, यमन, पाकिस्तान (पाक - स्थान) धू - धू कर जल रहे हैं और तो कहीं सीरिया में रोज - रोज इंसानों का खून बह रहा है | यह इस लिये क्यूंकि इस्लाम में ' जिसकी लाठी उसकी भैंस ' का असूल चलता है | हिन्दोस्तानी हो यां पाकिस्तानी, नेताओं को देश से क्या मतलब, उनके तो वोट बैंक महफूज रहना चाहिये | नेता तो दोनों देशों में एक सामान है कैसे भी हो सके राज और ताक़त उन्ही के हाथों में रहनी चाहिये | पाकिस्तान में तो नाम मात्र के प्रेजिडेंट और प्राइम मिनिस्टर हैं और पता नहीं कब आई एस आई धर दबोचे | मुल्लाओं की जुबान ( Islamic Ideology ) जहर उगलती है और आंतवादिकयों का आंतक | वहां हिजबुल मुजाहिद्दीन और जमात - उद दावा, लश्करेताईबा इधर हिन्दोतान में इंडियन मुजाहिद | आई एस आई के हाथ में तलवार और इधर हिन्दोस्तानी की पुलिस और खुफिया एजेंसियों के हाथ में ढाल और की नेताओं की नीतियों से पीठ पीछे बंधे हाथ | हाँ दोनों देशों में कुछ बचा है तो उनके सुप्रीम कोर्ट परन्तु इनके भी दायरे सीमित है | कभी - कभी तो ऐसा लगता है की इनके भी हाथ कठपुतलियों की तरह कानून की डोरियों से बंधे हुए हैं यां नेताओं द्वारा लगाये गए न्यायिक सक्रियता ( judicial activism ) के इल्जाम और हो - हल्ला | सुप्रीम कोर्ट तो दोनों देशो की आखरी उम्मीद रह गए हैं नहीं तो गणतंत्र, सेकुलरिज्म और समाजवाद को तो दिवाला निकल चुका है | दोनों देशों की जनता की पीठ भ्रष्टाचार, महंगाई और अपराधों के बोझ से टूट रही है, परन्तु दोनों देशों के नेतओं के कान में जूं भी नहीं रेंगती उनको तो भ्रष्टाचार और राजनीतिक दंदे से फुर्सत ही नहीं औरफ फिर क्रिकट के धन्धे का लालच कैसे छोड़ दें | इसके अलावा वोह हर वक़्त सोचते रहते हैं कि कैसे जनता -अवाम का ध्यान समस्याओं से हटा कर दूसरी तरफ लगा दिया जाये | तो क्रिकेट में हुआ दो तरह का फ़ायदा यानि आम के आम गुठलियों के दाम | हिन्दोस्तान की सेन्ट्रल ब्यूरो आफ इन्वेस्टिगेशन को तो आम जुबान में लोग कांग्रेस ब्यूरो आफ इन्वेस्टिगेशन यां सरकारी ब्यूरो आफ इन्वेस्टिगेशन कहने लगे हैं | ' कुछ तो लोग कहेंगे लोगो का काम है कहना, छोडो बेकार की बातों में कही बीत न जाये रैना ' रैना का मतलब यहाँ राज शासन करने का वक़्त अर्थात ' PERIOD OF RULE ' है | एक बार राजगद्दी हाथ आ जाये फिर कोई परवाह नहीं | संया बये बलवान अब डर काहे का | कांग्रेस के राज में पिछले साल दिसम्बर में जयपुर से १४ में से ११ सिमी ( स्टुडेंट इस्लामिक मूवमेंट ऑफ़ इंडिया ) के अपराधियों को छोड़ दिया, क्यूंकि कांग्रेस कि राजस्थान सरकार पर मुसलमान और मुल्लाओ का ऐसा राजनीतिक दबाव था, कि एंटी टेरेरिस्ट स्कुईड वहां की होम मिनिस्ट्री से मुकदमा चलाने कि इज़ाज़त न ले , ताकि कांग्रेसी नेताओं का मुस्लिम वोट बैंक बकरार रहे और उनकी बाद्शायत कायम रहे | अगर उग्रवादियों की सहायता के लिये जेहादियों को शह मिलती है तो मिले इससे राजनेताओं को क्या फर्क पड़ता है बल्कि उनके तो वोटों की तो पौं - बारह होगी | इसी वोट बैंक की राजनीति - पोलिसी के अन्तर्गत अभी -अभी उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेशजी, जिनके नाम का मतलब अखिल ईश है और अब वोह उत्तर प्रदेश के इश्वर हैं जो चाहेंगे करेंगे, ने समाजवादी पार्टी का समाजवाद लाने के लिये अपनी पार्टी के मंत्रियों के खिलाफ संगीन अपराधी मामले वापिस ले लिये | है न चोर - चोर मुसेरे भाई - भाई | पाकिस्तान कुछ भी करे आखिर हैं तो उसी थाली के चट्टे -बट्टे जिसके हिन्दोस्तानी नेता हैं | फौजी, पुलिसवाले और लोग मरें तो मरें, हमें क्या हानि हम तो हैं चोर - चोर मुसेरे भाई - भाई, ' घूमेंगे, फिरेगे, ऐश करेंगे और क्रिकट का हर तरह से फ़ायदा उठायेंगे | जनता की यादाश्त बहुत छोटी होती है | जो चला गया उसे भूल जा | जा अपनी हसरतों से, आंसू बहा के सो जा | फिर कुछ याद रह भी गया तो क्रिकट के लम्हे राजनितिक क्रिकट को भूला देंगे |

के द्वारा: ASK ASK

पिछड़ा वर्ग आयोग भी सर्कार का एक विभाग है उसकी स्थापना भी सर्कार द्वार की गयी है अतः कोई कारन नहीं होना चाहिए की सर्कार इन पहलुओं की अनदेखी करे और केवल चुनावी लाभ के लिए धर्म के आधार पर किसी एक समुदाय को आरक्छन देने का वायदा करे सर्कार ने असल में संविधान का पालन नहीं किया यहाँ तक सुप्रीम कोर्ट के दखल देने के बावजूद सलमान खुशीद जैसे कांग्रेसी नेता मुस्लिमो को यूपी चुनाव के दौरान रिझाने के लिए उनका वोट पाने के लिए इस तरह का असंवैधानिक तरीका अपनाया और जनता तथा खुद मुस्लिम वर्ग ने उनके इस वायदे को झूठा समझते हुए वे समाजवादी पार्टी को वोट देकर जीता दिए क्या आनेवाले लोकसभा चुनाव के आने तक भी कांग्रेस इस बात को नहीं समझेगी लगता कुछ ऐसा ही है मुस्लिम का समर्थन करना धर्म निरापेक्छ्ता है और हिन्दू की बात करना सांप्रदायिक होना है यह कांग्रेस और बीजेपी विरोधी पार्टियों का एक राजनितिक हथकंडा है इसे मुस्लिम भी समझते हैं और जरुरत है बीजेपी अपनी पार्टी में ज्यादा से ज्यादा मुस्लिमों को नेता के रूप में प्रोजेक्ट करे यदि वह अपनी सांप्रदायिक कहलाने वाली छबि से निजत पाना चाहती है .

के द्वारा: ashokkumardubey ashokkumardubey

नरेंदर मोदी जी आज भारतीय राजनीती के मुख्य स्तंम्भ हैं. कुछ लोग उनमे देश का भविष्य देखते हैं, तो कुछ उनके आने की आहट से ही भयभीत हैं, वास्तव में नरेंदर जी ने गुजरात का जिस प्रकार से विकास किया है, जनहितकारी कार्य संस्कृति विकसित की है, उससे देश की वर्तमान स्थिति से परेसान नागरिको में आशा का संचार हुआ है . अपनी बात को निडरता और प्रखरता से रखने की मोदी जी की शैली ने युवाओ को आकर्षित किया है. लेकिन उनकी यही बातें वोट के सौदागरों को परेसान कर रही हैं, और उन्हें अपनी रोज़ी-रोटी छिनती दिख रही है और हताशा में अनर्गल प्रलाप कर रहे है. मोदी विरोध में ये लोग सभी सीमाए पार कर रहे है, लेकिन देश की जनता ने अपना मन बना लिया है. उन्हें तरह-तरह के प्रमाणपत्र लिए घूम रहे विदुसको की परवाह नहीं है,जो विकाश गुजरात में हुआ, जिसे सारे विश्व ने सराहा, वही इस देश के प्रत्येक नागरिक का सपना है, क्योंकि विकाश होता है, तो वो जाती-पंथ का भेद किये बिना सबको प्रकाशित करता है, इसलिए एक ही विकल्प --नरेंदर मोदी.

के द्वारा:

आमिर जी आपका शो देखा और आपका यह लेख पड़ा देखकर अच्छा लगा किसी ने इस मुद्दे को positive तरीके से उठाया समझ नहीं आता हमारी मानसिकता इतनी असी कसे हो सकती है एक तरफ हम १८ साल के लोगो को देश का fuctur चुनने का हक देते है पर हम उन्हें उनका fucture चुनने की आज़ादी नहीं दे सकते है माँ बाप अपने बचे की ख़ुशी के लिए ज़मीन आसमा एक कर देते है उन्हें वो सब देने की कोशिश करते है जो वो उनसे मांगते है पर क्यों वही माँ बाप जब बचे मन का जीवनसाथी चुनते है तो उनके सबसे बड़े दुश्मन बन जाते है हम क्यों नहीं सम्जहते समाज परम्पराए हमारे भले के लिए बनायीं गयी थी ये हमारे लिए है हम इनके लिए नहीं वो परम्परा जो हमे प्रगति के पथ से हटा कर विनाश की और ले जयेर कभी सही नहीं हो सकती परिवर्तन जीवन का शाश्वत नीयम है और ये नीयम परम्पराव पर भी लागु होता है जसे ठहरा हुआ पानी बदबू मरने लगता है वसे ही जो परम्पराए समय के साथ नहीं बदलती वो भी बदबू करने लगती है और देश और समाज को बीमार कर देती है ये हमारे हाथ में है हम बदलवा चाहते है या देश को इसी तरह बीमार हालत में छोड़ देना ,,,,,,,,,,,,,,,,,

के द्वारा: pragati pragati

आदरनिये आमिर जी , आपकी हर एक बात ठीक पर इसे कोई समझना नहीं चाहता आपका शो देख के कहते है उनके बारे में जो उस शो में आये और समझाने की कोशिश की उसके लिए कि ये यहाँ समझाने आया है आमिर जी के कहने पर ये खुद अपने बच्चो के वक़्त वही करेगा जो हम कर रहे है शुक्र है आपके लिए कुछ नहीं बोला चुप चाप देखते रहे और एक सच्चाई से मई आपको अवगत करा दू सिर्फ बड़े ही नहीं बल्कि कुछ पढ़े लिखे नौजवान भी इसको समर्थन दे रहे है पता नहीं उनकी बुध्धि को क्या होगया जो सही गलत नहीं देख पा रहे वो तो शिक्षित है पर किसी काम के नहीं समझ नहीं आता इन लोगो को सच्चाई कैसे दिखाए और अगर दिख भी जाती है तो हिम्मत नहीं है इनमे सच का सामना करने की जो लोग जो रिश्तेदार कभी कम नहीं आते उनसे कोई लेना देना नहीं उनका इतना दर उनकी इतनी फ़िक्र क्यों है क्यों इंसान में सच का सामना करने की हिम्मत नहीं उन्हें अनुभव है जिंदगी का सही गलत की परख नहीं है उसे लागु करने की हिम्मत नहीं है क्यों ? क्यों वो रिश्तेदारों को खुश करने में लगे रहते है अपने बच्चो को नहीं? क्यों उनकी सोच सिर्फ लोगो को नज़रो को देखती है अपने बच्चो की आँखों को नहीं? वो माँ - बाप अपने बच्चो की जिंदगी तो दाव पर लगा देते है पर रिश्तेदारों को नहीं कह सकते की हम अपने बच्चो की ख़ुशी के लिए है क्यों वो सब कुछ लोगो की मर्जी से करते है उनका खुद का कोई फैसला क्यों नहीं होता ? क्यों वो कपडे भी ये सोच कर पहनते है की लोग क्या कहेंगे क्यों वो अपने जीवन के तजुर्बे के बावजूद खुद की पसंद का ड्रेस भी नहीं पहन सकते???? और अपने बच्चो से भी यही उम्मीद करते है की वो भी दुसरो की मर्जी से जिए आपने कोशिश कर ली समझाने की पर मैंने देखा जिसे उन सबने देख के सुन के बैठ गए यही भी नहीं कहा की ये सही होसकता है कैसे समझाये उन्हें और कोनसा तरीका अपनाये की ये सही गलत का फर्क करना सिख जाये आपको नहीं लगता खुद खुदा को आना पड़ेगा? मुझे तो यही लगता है ये किसी से नहीं समझेंगे. समझ नहीं आता कब लोग इस जात पात और धर्म मजहब की बीमारी से आज़ाद होंगे कब वो दिन आएगा सब जब सब मिल कर जियेंगे सबके साथ जियेंगे बिना किसी भेद भाव के. न जाने कब होगी ऐसी सेहर

के द्वारा: MEENU MEENU

जाहिद खान ने अल्पसंख्यक आरक्छन का समर्थन करते हुए विरोधाभासी दलील दी है. वैसे भी इस मसले में कांग्रेस नीत केंद्र सरकार देश को बाँटने का वाही खतरनाक खेल खेल रही है, जैसा अंग्रेजो ने खेला, और भारतमाता के टुकड़े हो गए. यदि आर्थिक आधार पर आरक्छन की बात होती है तो क्या हिन्दू समाज की तथकथित कथित अगड़ी जातियों में सभी अमीर हैं? यदि नहीं तो उन को आरक्छन क्यों नहीं ? क्या हिन्दू होना उनका अपराध है ? यदि सामाजिक पिछड़े पन की बात की जाती है, तो जिस समाज ने ७०० वर्ष तक इस देश पर कब्ज़ा जमाये रखा, देश का विभाजन कराया, देश के कानून से अलग विशेष कानून की जिद कर सामाजिक सौहार्दको तार-तार करने की कोशिश कर रहा है, वो उत्पीडित या निरीह तो नहीं हो सकता. रही बात मुस्लिमो में पिछड़ी जातियों के होने की, तो ऐसा कहकर लेखक पूरे इस्लाम को ही नकार रहा है, क्योंकि इस्लाम तो जाती विहीन समाज होने का दम भरता है, ऐसे में यदि वहां जाती या अगड़ा-पिछड़ा है तो कैसा इस्लाम ? यदि हिंदुत्व से अलग होकर भी कुछ लोगो को भेदभाव सहन करना पड़ रहा है, तो उन्हें अपने मूल धर्म में आकर घर वापिसी करनी चाहिए.संविधान मेकेवल हिन्दू समाज को ही जाती प्रथा से पीड़ित मानकर निम्न जातियों के लिए आरक्छन की व्यवस्था है. जाती प्रथा के नाम पर हिंदुत्व को अपमानित और कमजोर करने वाले यदि अपने यहाँ भी भेदभाव स्वीकार करते है, तो हिन्दू समाज से माफ़ी मांगकर घर वापस आयें.

के द्वारा:

आज देश में जो राजनितिक माहौल है उसमे बिपक्छ की भूमिका समाप्तप्राय ही दिखलाई पड़ रहा है ऐसे में जो २०१३ में चुनाव की कल्पना की जा रही थी वह तो ख़तम समझा जाना चाहिए क्यूंकि आज देश की जनता कमर तोड़ महंगाई से जूझ रही है और सर्कार इसके प्रति कोई कदम उठाने को तैयार नहीं है वर्तमान वित्तमंत्री की आर्थिक निति यही बयां कर रही की महंगाई और बढ़ सकती है और जनता भी ले दे कर चुप चाप बैठी दिखलाई पड़ रही है अतः यह सर्कार अपना कार्यकाल ५ साल का पूरा जरुर करेगी क्यूंकि कोई ठोस विरोध नहीं है नहीं जनता की तरफ से न ही बिपक्छी पार्टियों की तरफ से और मुख्य बिपक्छी दल बीजेपी तो अंतर्कलह से जूझ रही है .अगले चुनाव में छेत्रिय पार्टियों का प्रदर्शन ही ज्यादा मजबूत और संख्या बल में भी अपनी पहचान दर्ज करेगी हाँ उनका एकजुट होना एक मुश्किल बात है लेकिन अगर कांग्रेस का विरोध पूरे देश में उभरेगा जो की आशा की जा सकती है तो दोनों ही राष्ट्रिय पार्टियों का प्रदर्शन अगले चुनाव में अच्छा होने की सम्भावना नजर नहीं आती अतः मेरे विचार से अगले चुनाव में चुनाव पूर्ब गठ बंधन होना मुमकिन नहीं लगता हाँ चुनाव बाद समीकरण जरुर बनने की सम्भावना है और छेत्रिय पार्टियाँ अगर एक तीसरे मोर्चे के रूप में उभर कर आती है तो एक कामन मिनमम प्रोग्राम के तहत सर्कार को कुछ स्थिरता दे सकते हैं लेकिन अभी ऐसा भविष्यवाणी करना जल्दबाजी कही जाएगी

के द्वारा: ashokkumardubey ashokkumardubey

खाली!! मेरा नाम मेलिस्सा है मैं लंबा, अच्छी लग रही है, संपूर्ण शरीर आंकड़ा और सेक्सी हूँ. मैं अपने प्रोफ़ाइल देखा और आपसे संपर्क करने के लिए खुश था, मुझे आशा है कि आप सच्चे प्यार, ईमानदार और देखभाल व्यक्ति है कि मैं 4 देख रहा है हो जाएगा, और मैं कुछ खास करने के लिए आप मेरे बारे में बताना है, तो मुझे अपने ईमेल के माध्यम से सीधे संपर्क करें पर पता (annanmelissa@hotmail.com) इतना है कि मैं भी आप के लिए मेरी तस्वीर भेज सकते हैं सीधे. का संबंध है मेलिसा Hallo!!! My name is Melissa I am tall ,good looking, perfect body figure and sexy. I saw your profile and was delighted to contact you, I hope you will be the true loving, honest and caring person that I have been looking 4, And I have something special to tell you about me, So please contact me directly through my email address at (annanmelissa@hotmail.com) so that I can also send my picture directly to you. regards Melissa

के द्वारा: melissa melissa

खाली!! मेरा नाम मेलिस्सा है मैं लंबा, अच्छी लग रही है, संपूर्ण शरीर आंकड़ा और सेक्सी हूँ. मैं अपने प्रोफ़ाइल देखा और आपसे संपर्क करने के लिए खुश था, मुझे आशा है कि आप सच्चे प्यार, ईमानदार और देखभाल व्यक्ति है कि मैं 4 देख रहा है हो जाएगा, और मैं कुछ खास करने के लिए आप मेरे बारे में बताना है, तो मुझे अपने ईमेल के माध्यम से सीधे संपर्क करें पर पता (annanmelissa@hotmail.com) इतना है कि मैं भी आप के लिए मेरी तस्वीर भेज सकते हैं सीधे. का संबंध है मेलिसा Hallo!!! My name is Melissa I am tall ,good looking, perfect body figure and sexy. I saw your profile and was delighted to contact you, I hope you will be the true loving, honest and caring person that I have been looking 4, And I have something special to tell you about me, So please contact me directly through my email address at (annanmelissa@hotmail.com) so that I can also send my picture directly to you. regards Melissa

के द्वारा: melissa melissa

खाली!! मेरा नाम मेलिस्सा है मैं लंबा, अच्छी लग रही है, संपूर्ण शरीर आंकड़ा और सेक्सी हूँ. मैं अपने प्रोफ़ाइल देखा और आपसे संपर्क करने के लिए खुश था, मुझे आशा है कि आप सच्चे प्यार, ईमानदार और देखभाल व्यक्ति है कि मैं 4 देख रहा है हो जाएगा, और मैं कुछ खास करने के लिए आप मेरे बारे में बताना है, तो मुझे अपने ईमेल के माध्यम से सीधे संपर्क करें पर पता (annanmelissa@hotmail.com) इतना है कि मैं भी आप के लिए मेरी तस्वीर भेज सकते हैं सीधे. का संबंध है मेलिसा Hallo!!! My name is Melissa I am tall ,good looking, perfect body figure and sexy. I saw your profile and was delighted to contact you, I hope you will be the true loving, honest and caring person that I have been looking 4, And I have something special to tell you about me, So please contact me directly through my email address at (annanmelissa@hotmail.com) so that I can also send my picture directly to you. regards Melissa

के द्वारा: melissa melissa

खाली!! मेरा नाम मेलिस्सा है मैं लंबा, अच्छी लग रही है, संपूर्ण शरीर आंकड़ा और सेक्सी हूँ. मैं अपने प्रोफ़ाइल देखा और आपसे संपर्क करने के लिए खुश था, मुझे आशा है कि आप सच्चे प्यार, ईमानदार और देखभाल व्यक्ति है कि मैं 4 देख रहा है हो जाएगा, और मैं कुछ खास करने के लिए आप मेरे बारे में बताना है, तो मुझे अपने ईमेल के माध्यम से सीधे संपर्क करें पर पता (annanmelissa@hotmail.com) इतना है कि मैं भी आप के लिए मेरी तस्वीर भेज सकते हैं सीधे. का संबंध है मेलिसा Hallo!!! My name is Melissa I am tall ,good looking, perfect body figure and sexy. I saw your profile and was delighted to contact you, I hope you will be the true loving, honest and caring person that I have been looking 4, And I have something special to tell you about me, So please contact me directly through my email address at (annanmelissa@hotmail.com) so that I can also send my picture directly to you. regards Melissa

के द्वारा: melissa melissa

खाली!! मेरा नाम मेलिस्सा है मैं लंबा, अच्छी लग रही है, संपूर्ण शरीर आंकड़ा और सेक्सी हूँ. मैं अपने प्रोफ़ाइल देखा और आपसे संपर्क करने के लिए खुश था, मुझे आशा है कि आप सच्चे प्यार, ईमानदार और देखभाल व्यक्ति है कि मैं 4 देख रहा है हो जाएगा, और मैं कुछ खास करने के लिए आप मेरे बारे में बताना है, तो मुझे अपने ईमेल के माध्यम से सीधे संपर्क करें पर पता (annanmelissa@hotmail.com) इतना है कि मैं भी आप के लिए मेरी तस्वीर भेज सकते हैं सीधे. का संबंध है मेलिसा Hallo!!! My name is Melissa I am tall ,good looking, perfect body figure and sexy. I saw your profile and was delighted to contact you, I hope you will be the true loving, honest and caring person that I have been looking 4, And I have something special to tell you about me, So please contact me directly through my email address at (annanmelissa@hotmail.com) so that I can also send my picture directly to you. regards Melissa

के द्वारा: melissa melissa

खाली!! मेरा नाम मेलिस्सा है मैं लंबा, अच्छी लग रही है, संपूर्ण शरीर आंकड़ा और सेक्सी हूँ. मैं अपने प्रोफ़ाइल देखा और आपसे संपर्क करने के लिए खुश था, मुझे आशा है कि आप सच्चे प्यार, ईमानदार और देखभाल व्यक्ति है कि मैं 4 देख रहा है हो जाएगा, और मैं कुछ खास करने के लिए आप मेरे बारे में बताना है, तो मुझे अपने ईमेल के माध्यम से सीधे संपर्क करें पर पता (annanmelissa@hotmail.com) इतना है कि मैं भी आप के लिए मेरी तस्वीर भेज सकते हैं सीधे. का संबंध है मेलिसा Hallo!!! My name is Melissa I am tall ,good looking, perfect body figure and sexy. I saw your profile and was delighted to contact you, I hope you will be the true loving, honest and caring person that I have been looking 4, And I have something special to tell you about me, So please contact me directly through my email address at (annanmelissa@hotmail.com) so that I can also send my picture directly to you. regards Melissa

के द्वारा: melissa melissa

खाली!! मेरा नाम मेलिस्सा है मैं लंबा, अच्छी लग रही है, संपूर्ण शरीर आंकड़ा और सेक्सी हूँ. मैं अपने प्रोफ़ाइल देखा और आपसे संपर्क करने के लिए खुश था, मुझे आशा है कि आप सच्चे प्यार, ईमानदार और देखभाल व्यक्ति है कि मैं 4 देख रहा है हो जाएगा, और मैं कुछ खास करने के लिए आप मेरे बारे में बताना है, तो मुझे अपने ईमेल के माध्यम से सीधे संपर्क करें पर पता (annanmelissa@hotmail.com) इतना है कि मैं भी आप के लिए मेरी तस्वीर भेज सकते हैं सीधे. का संबंध है मेलिसा Hallo!!! My name is Melissa I am tall ,good looking, perfect body figure and sexy. I saw your profile and was delighted to contact you, I hope you will be the true loving, honest and caring person that I have been looking 4, And I have something special to tell you about me, So please contact me directly through my email address at (annanmelissa@hotmail.com) so that I can also send my picture directly to you. regards Melissa

के द्वारा: melissa melissa

खाली!! मेरा नाम मेलिस्सा है मैं लंबा, अच्छी लग रही है, संपूर्ण शरीर आंकड़ा और सेक्सी हूँ. मैं अपने प्रोफ़ाइल देखा और आपसे संपर्क करने के लिए खुश था, मुझे आशा है कि आप सच्चे प्यार, ईमानदार और देखभाल व्यक्ति है कि मैं 4 देख रहा है हो जाएगा, और मैं कुछ खास करने के लिए आप मेरे बारे में बताना है, तो मुझे अपने ईमेल के माध्यम से सीधे संपर्क करें पर पता (annanmelissa@hotmail.com) इतना है कि मैं भी आप के लिए मेरी तस्वीर भेज सकते हैं सीधे. का संबंध है मेलिसा Hallo!!! My name is Melissa I am tall ,good looking, perfect body figure and sexy. I saw your profile and was delighted to contact you, I hope you will be the true loving, honest and caring person that I have been looking 4, And I have something special to tell you about me, So please contact me directly through my email address at (annanmelissa@hotmail.com) so that I can also send my picture directly to you. regards Melissa

के द्वारा: melissa melissa

खाली!! मेरा नाम मेलिस्सा है मैं लंबा, अच्छी लग रही है, संपूर्ण शरीर आंकड़ा और सेक्सी हूँ. मैं अपने प्रोफ़ाइल देखा और आपसे संपर्क करने के लिए खुश था, मुझे आशा है कि आप सच्चे प्यार, ईमानदार और देखभाल व्यक्ति है कि मैं 4 देख रहा है हो जाएगा, और मैं कुछ खास करने के लिए आप मेरे बारे में बताना है, तो मुझे अपने ईमेल के माध्यम से सीधे संपर्क करें पर पता (annanmelissa@hotmail.com) इतना है कि मैं भी आप के लिए मेरी तस्वीर भेज सकते हैं सीधे. का संबंध है मेलिसा Hallo!!! My name is Melissa I am tall ,good looking, perfect body figure and sexy. I saw your profile and was delighted to contact you, I hope you will be the true loving, honest and caring person that I have been looking 4, And I have something special to tell you about me, So please contact me directly through my email address at (annanmelissa@hotmail.com) so that I can also send my picture directly to you. regards Melissa

के द्वारा: melissa melissa

खाली!! मेरा नाम मेलिस्सा है मैं लंबा, अच्छी लग रही है, संपूर्ण शरीर आंकड़ा और सेक्सी हूँ. मैं अपने प्रोफ़ाइल देखा और आपसे संपर्क करने के लिए खुश था, मुझे आशा है कि आप सच्चे प्यार, ईमानदार और देखभाल व्यक्ति है कि मैं 4 देख रहा है हो जाएगा, और मैं कुछ खास करने के लिए आप मेरे बारे में बताना है, तो मुझे अपने ईमेल के माध्यम से सीधे संपर्क करें पर पता (annanmelissa@hotmail.com) इतना है कि मैं भी आप के लिए मेरी तस्वीर भेज सकते हैं सीधे. का संबंध है मेलिसा Hallo!!! My name is Melissa I am tall ,good looking, perfect body figure and sexy. I saw your profile and was delighted to contact you, I hope you will be the true loving, honest and caring person that I have been looking 4, And I have something special to tell you about me, So please contact me directly through my email address at (annanmelissa@hotmail.com) so that I can also send my picture directly to you. regards Melissa

के द्वारा: melissa melissa

खाली!! मेरा नाम मेलिस्सा है मैं लंबा, अच्छी लग रही है, संपूर्ण शरीर आंकड़ा और सेक्सी हूँ. मैं अपने प्रोफ़ाइल देखा और आपसे संपर्क करने के लिए खुश था, मुझे आशा है कि आप सच्चे प्यार, ईमानदार और देखभाल व्यक्ति है कि मैं 4 देख रहा है हो जाएगा, और मैं कुछ खास करने के लिए आप मेरे बारे में बताना है, तो मुझे अपने ईमेल के माध्यम से सीधे संपर्क करें पर पता (annanmelissa@hotmail.com) इतना है कि मैं भी आप के लिए मेरी तस्वीर भेज सकते हैं सीधे. का संबंध है मेलिसा Hallo!!! My name is Melissa I am tall ,good looking, perfect body figure and sexy. I saw your profile and was delighted to contact you, I hope you will be the true loving, honest and caring person that I have been looking 4, And I have something special to tell you about me, So please contact me directly through my email address at (annanmelissa@hotmail.com) so that I can also send my picture directly to you. regards Melissa

के द्वारा: melissa melissa

खाली!! मेरा नाम मेलिस्सा है मैं लंबा, अच्छी लग रही है, संपूर्ण शरीर आंकड़ा और सेक्सी हूँ. मैं अपने प्रोफ़ाइल देखा और आपसे संपर्क करने के लिए खुश था, मुझे आशा है कि आप सच्चे प्यार, ईमानदार और देखभाल व्यक्ति है कि मैं 4 देख रहा है हो जाएगा, और मैं कुछ खास करने के लिए आप मेरे बारे में बताना है, तो मुझे अपने ईमेल के माध्यम से सीधे संपर्क करें पर पता (annanmelissa@hotmail.com) इतना है कि मैं भी आप के लिए मेरी तस्वीर भेज सकते हैं सीधे. का संबंध है मेलिसा Hallo!!! My name is Melissa I am tall ,good looking, perfect body figure and sexy. I saw your profile and was delighted to contact you, I hope you will be the true loving, honest and caring person that I have been looking 4, And I have something special to tell you about me, So please contact me directly through my email address at (annanmelissa@hotmail.com) so that I can also send my picture directly to you. regards Melissa

के द्वारा: melissa melissa

खाली!! मेरा नाम मेलिस्सा है मैं लंबा, अच्छी लग रही है, संपूर्ण शरीर आंकड़ा और सेक्सी हूँ. मैं अपने प्रोफ़ाइल देखा और आपसे संपर्क करने के लिए खुश था, मुझे आशा है कि आप सच्चे प्यार, ईमानदार और देखभाल व्यक्ति है कि मैं 4 देख रहा है हो जाएगा, और मैं कुछ खास करने के लिए आप मेरे बारे में बताना है, तो मुझे अपने ईमेल के माध्यम से सीधे संपर्क करें पर पता (annanmelissa@hotmail.com) इतना है कि मैं भी आप के लिए मेरी तस्वीर भेज सकते हैं सीधे. का संबंध है मेलिसा Hallo!!! My name is Melissa I am tall ,good looking, perfect body figure and sexy. I saw your profile and was delighted to contact you, I hope you will be the true loving, honest and caring person that I have been looking 4, And I have something special to tell you about me, So please contact me directly through my email address at (annanmelissa@hotmail.com) so that I can also send my picture directly to you. regards Melissa

के द्वारा: melissa melissa

खाली!! मेरा नाम मेलिस्सा है मैं लंबा, अच्छी लग रही है, संपूर्ण शरीर आंकड़ा और सेक्सी हूँ. मैं अपने प्रोफ़ाइल देखा और आपसे संपर्क करने के लिए खुश था, मुझे आशा है कि आप सच्चे प्यार, ईमानदार और देखभाल व्यक्ति है कि मैं 4 देख रहा है हो जाएगा, और मैं कुछ खास करने के लिए आप मेरे बारे में बताना है, तो मुझे अपने ईमेल के माध्यम से सीधे संपर्क करें पर पता (annanmelissa@hotmail.com) इतना है कि मैं भी आप के लिए मेरी तस्वीर भेज सकते हैं सीधे. का संबंध है मेलिसा Hallo!!! My name is Melissa I am tall ,good looking, perfect body figure and sexy. I saw your profile and was delighted to contact you, I hope you will be the true loving, honest and caring person that I have been looking 4, And I have something special to tell you about me, So please contact me directly through my email address at (annanmelissa@hotmail.com) so that I can also send my picture directly to you. regards Melissa

के द्वारा: melissa melissa

खाली!! मेरा नाम मेलिस्सा है मैं लंबा, अच्छी लग रही है, संपूर्ण शरीर आंकड़ा और सेक्सी हूँ. मैं अपने प्रोफ़ाइल देखा और आपसे संपर्क करने के लिए खुश था, मुझे आशा है कि आप सच्चे प्यार, ईमानदार और देखभाल व्यक्ति है कि मैं 4 देख रहा है हो जाएगा, और मैं कुछ खास करने के लिए आप मेरे बारे में बताना है, तो मुझे अपने ईमेल के माध्यम से सीधे संपर्क करें पर पता (annanmelissa@hotmail.com) इतना है कि मैं भी आप के लिए मेरी तस्वीर भेज सकते हैं सीधे. का संबंध है मेलिसा Hallo!!! My name is Melissa I am tall ,good looking, perfect body figure and sexy. I saw your profile and was delighted to contact you, I hope you will be the true loving, honest and caring person that I have been looking 4, And I have something special to tell you about me, So please contact me directly through my email address at (annanmelissa@hotmail.com) so that I can also send my picture directly to you. regards Melissa

के द्वारा: melissa melissa

खाली!! मेरा नाम मेलिस्सा है मैं लंबा, अच्छी लग रही है, संपूर्ण शरीर आंकड़ा और सेक्सी हूँ. मैं अपने प्रोफ़ाइल देखा और आपसे संपर्क करने के लिए खुश था, मुझे आशा है कि आप सच्चे प्यार, ईमानदार और देखभाल व्यक्ति है कि मैं 4 देख रहा है हो जाएगा, और मैं कुछ खास करने के लिए आप मेरे बारे में बताना है, तो मुझे अपने ईमेल के माध्यम से सीधे संपर्क करें पर पता (annanmelissa@hotmail.com) इतना है कि मैं भी आप के लिए मेरी तस्वीर भेज सकते हैं सीधे. का संबंध है मेलिसा Hallo!!! My name is Melissa I am tall ,good looking, perfect body figure and sexy. I saw your profile and was delighted to contact you, I hope you will be the true loving, honest and caring person that I have been looking 4, And I have something special to tell you about me, So please contact me directly through my email address at (annanmelissa@hotmail.com) so that I can also send my picture directly to you. regards Melissa

के द्वारा: melissa melissa

खाली!! मेरा नाम मेलिस्सा है मैं लंबा, अच्छी लग रही है, संपूर्ण शरीर आंकड़ा और सेक्सी हूँ. मैं अपने प्रोफ़ाइल देखा और आपसे संपर्क करने के लिए खुश था, मुझे आशा है कि आप सच्चे प्यार, ईमानदार और देखभाल व्यक्ति है कि मैं 4 देख रहा है हो जाएगा, और मैं कुछ खास करने के लिए आप मेरे बारे में बताना है, तो मुझे अपने ईमेल के माध्यम से सीधे संपर्क करें पर पता (annanmelissa@hotmail.com) इतना है कि मैं भी आप के लिए मेरी तस्वीर भेज सकते हैं सीधे. का संबंध है मेलिसा Hallo!!! My name is Melissa I am tall ,good looking, perfect body figure and sexy. I saw your profile and was delighted to contact you, I hope you will be the true loving, honest and caring person that I have been looking 4, And I have something special to tell you about me, So please contact me directly through my email address at (annanmelissa@hotmail.com) so that I can also send my picture directly to you. regards Melissa

के द्वारा: melissa melissa

खाली!! मेरा नाम मेलिस्सा है मैं लंबा, अच्छी लग रही है, संपूर्ण शरीर आंकड़ा और सेक्सी हूँ. मैं अपने प्रोफ़ाइल देखा और आपसे संपर्क करने के लिए खुश था, मुझे आशा है कि आप सच्चे प्यार, ईमानदार और देखभाल व्यक्ति है कि मैं 4 देख रहा है हो जाएगा, और मैं कुछ खास करने के लिए आप मेरे बारे में बताना है, तो मुझे अपने ईमेल के माध्यम से सीधे संपर्क करें पर पता (annanmelissa@hotmail.com) इतना है कि मैं भी आप के लिए मेरी तस्वीर भेज सकते हैं सीधे. का संबंध है मेलिसा Hallo!!! My name is Melissa I am tall ,good looking, perfect body figure and sexy. I saw your profile and was delighted to contact you, I hope you will be the true loving, honest and caring person that I have been looking 4, And I have something special to tell you about me, So please contact me directly through my email address at (annanmelissa@hotmail.com) so that I can also send my picture directly to you. regards Melissa

के द्वारा: melissa melissa

खाली!! मेरा नाम मेलिस्सा है मैं लंबा, अच्छी लग रही है, संपूर्ण शरीर आंकड़ा और सेक्सी हूँ. मैं अपने प्रोफ़ाइल देखा और आपसे संपर्क करने के लिए खुश था, मुझे आशा है कि आप सच्चे प्यार, ईमानदार और देखभाल व्यक्ति है कि मैं 4 देख रहा है हो जाएगा, और मैं कुछ खास करने के लिए आप मेरे बारे में बताना है, तो मुझे अपने ईमेल के माध्यम से सीधे संपर्क करें पर पता (annanmelissa@hotmail.com) इतना है कि मैं भी आप के लिए मेरी तस्वीर भेज सकते हैं सीधे. का संबंध है मेलिसा Hallo!!! My name is Melissa I am tall ,good looking, perfect body figure and sexy. I saw your profile and was delighted to contact you, I hope you will be the true loving, honest and caring person that I have been looking 4, And I have something special to tell you about me, So please contact me directly through my email address at (annanmelissa@hotmail.com) so that I can also send my picture directly to you. regards Melissa

के द्वारा: melissa melissa

खाली!! मेरा नाम मेलिस्सा है मैं लंबा, अच्छी लग रही है, संपूर्ण शरीर आंकड़ा और सेक्सी हूँ. मैं अपने प्रोफ़ाइल देखा और आपसे संपर्क करने के लिए खुश था, मुझे आशा है कि आप सच्चे प्यार, ईमानदार और देखभाल व्यक्ति है कि मैं 4 देख रहा है हो जाएगा, और मैं कुछ खास करने के लिए आप मेरे बारे में बताना है, तो मुझे अपने ईमेल के माध्यम से सीधे संपर्क करें पर पता (annanmelissa@hotmail.com) इतना है कि मैं भी आप के लिए मेरी तस्वीर भेज सकते हैं सीधे. का संबंध है मेलिसा Hallo!!! My name is Melissa I am tall ,good looking, perfect body figure and sexy. I saw your profile and was delighted to contact you, I hope you will be the true loving, honest and caring person that I have been looking 4, And I have something special to tell you about me, So please contact me directly through my email address at (annanmelissa@hotmail.com) so that I can also send my picture directly to you. regards Melissa

के द्वारा: melissa melissa

खाली!! मेरा नाम मेलिस्सा है मैं लंबा, अच्छी लग रही है, संपूर्ण शरीर आंकड़ा और सेक्सी हूँ. मैं अपने प्रोफ़ाइल देखा और आपसे संपर्क करने के लिए खुश था, मुझे आशा है कि आप सच्चे प्यार, ईमानदार और देखभाल व्यक्ति है कि मैं 4 देख रहा है हो जाएगा, और मैं कुछ खास करने के लिए आप मेरे बारे में बताना है, तो मुझे अपने ईमेल के माध्यम से सीधे संपर्क करें पर पता (annanmelissa@hotmail.com) इतना है कि मैं भी आप के लिए मेरी तस्वीर भेज सकते हैं सीधे. का संबंध है मेलिसा Hallo!!! My name is Melissa I am tall ,good looking, perfect body figure and sexy. I saw your profile and was delighted to contact you, I hope you will be the true loving, honest and caring person that I have been looking 4, And I have something special to tell you about me, So please contact me directly through my email address at (annanmelissa@hotmail.com) so that I can also send my picture directly to you. regards Melissa

के द्वारा:

खाली!! मेरा नाम मेलिस्सा है मैं लंबा, अच्छी लग रही है, संपूर्ण शरीर आंकड़ा और सेक्सी हूँ. मैं अपने प्रोफ़ाइल देखा और आपसे संपर्क करने के लिए खुश था, मुझे आशा है कि आप सच्चे प्यार, ईमानदार और देखभाल व्यक्ति है कि मैं 4 देख रहा है हो जाएगा, और मैं कुछ खास करने के लिए आप मेरे बारे में बताना है, तो मुझे अपने ईमेल के माध्यम से सीधे संपर्क करें पर पता (annanmelissa@hotmail.com) इतना है कि मैं भी आप के लिए मेरी तस्वीर भेज सकते हैं सीधे. का संबंध है मेलिसा Hallo!!! My name is Melissa I am tall ,good looking, perfect body figure and sexy. I saw your profile and was delighted to contact you, I hope you will be the true loving, honest and caring person that I have been looking 4, And I have something special to tell you about me, So please contact me directly through my email address at (annanmelissa@hotmail.com) so that I can also send my picture directly to you. regards Melissa

के द्वारा:

खाली!! मेरा नाम मेलिस्सा है मैं लंबा, अच्छी लग रही है, संपूर्ण शरीर आंकड़ा और सेक्सी हूँ. मैं अपने प्रोफ़ाइल देखा और आपसे संपर्क करने के लिए खुश था, मुझे आशा है कि आप सच्चे प्यार, ईमानदार और देखभाल व्यक्ति है कि मैं 4 देख रहा है हो जाएगा, और मैं कुछ खास करने के लिए आप मेरे बारे में बताना है, तो मुझे अपने ईमेल के माध्यम से सीधे संपर्क करें पर पता (annanmelissa@hotmail.com) इतना है कि मैं भी आप के लिए मेरी तस्वीर भेज सकते हैं सीधे. का संबंध है मेलिसा Hallo!!! My name is Melissa I am tall ,good looking, perfect body figure and sexy. I saw your profile and was delighted to contact you, I hope you will be the true loving, honest and caring person that I have been looking 4, And I have something special to tell you about me, So please contact me directly through my email address at (annanmelissa@hotmail.com) so that I can also send my picture directly to you. regards Melissa

के द्वारा:

के द्वारा: vikasmehta vikasmehta

के द्वारा: vikasmehta vikasmehta

आदरणीय रघुवंशी जी सादर प्रणाम आपने अपने लेख में जो बातें कही हैं वो अक्षरशः सत्य हैं. परन्तु ये बात सिर्फ एक जगह की नहीं है. वसुधैव कुटुंबकम को अपना आदर्श मानने वाले हिन्दू आज हर जगह चाहे वो देश कोई भी हो, (भारत,पाकिस्तान,मलेशिया इत्यादि) प्रताड़ित हो रहे हैं. हमें सर्वप्रथम विचार करना होगा की आखिर इसका मूल कारण क्या है? आज 'हिन्दू' शब्द जैसे छूत की बीमारी हो गया है. जिसके सामने भी ये शब्द आता है वो ऐसे छिटकता है जैसे उसके सामने कोई एड्स ग्रस्त व्यक्ति आ गया हो. आज 'हिन्दू' शब्द पिछड़ेपन और साम्प्रदायिकता का पर्याय हो चुका है. हिन्दू धर्म पर 'जातिवाद' नामक हथौड़े से इतने प्रहार हो चुके हैं की इसके सभी अंग (विभिन्न जातियां) टुकड़े-टुकड़े हो कर बिखर चुके हैं. लोग जातियों के नाम पर तो अन्याय के खिलाफ आवाज उठाने के लिए संगठित हो जाते हैं परन्तु 'हिन्दू' के नाम पर कभी एक नहीं होते. कई तरह के कुतर्कों से हिन्दू धर्म की प्रामाणिकता पर ही प्रश्नचिन्ह लगाने की कुचेष्टा की जाती है. जब किसी देश में आतंकी हमला होता है तो भारत सरकार बड़ी तत्परता से उसके विरुद्ध निंदा सन्देश जारी करती है. क्या ऐसी हिन्दू प्रताड़ना की घटनाओं पर मानवता के नाते उसका फर्ज नहीं बनता की वो अपने स्तर से जो बन पड़े करे? क्या ऐसी घटनाओं को सिर्फ इसलिए उस देश विशेष का आतंरिक मामला बताया जाता है क्यों की वहां शोषण हिन्दुओं का होता है. ऑस्ट्रेलिया में पकडे गए दो युवकों के पक्ष में तो भारत सरकार ने बड़ी सक्रियता दिखाई थी. फिर हिन्दुओं के मामले में क्या हो जाता है? चलिए सरकार की बात छोडिये आज हम खुद कितने जागरूक हैं इस मामले में? भारत के संविधान में ये स्पष्ट प्रावधान है की कोई भी ऐसा कार्य नहीं होना चाहिए जिससे किसी धर्म विशेष की भावनाएं आहत हों. टेलीविजन पर हमेशा ऐसे विज्ञापन आते हैं जिनमें हिन्दू देवी-देवताओं पर फूहड़ तरीके से व्यंग-मजाक किया जाता है. ऐसी हास्य रचनाओं की आज बड़ी लोकप्रियता होती है जिसमें भगवान पर (हिन्दू धर्म के) जी भर के उटपटांग कमेंट्स होते हैं. ये रचनाएँ हर अख़बार, सोशल साइट्स (जिनमें जागरण जंक्शन भी शामिल है) , साप्ताहिक पत्रिकाओं में मिल जाएँगी. किसी अन्य धर्म के साथ ऐसा करना संभव है? करना चाहिए भी नहीं. हमारी संस्कृति कभी भी इसकी आज्ञा नहीं देती. मैं तो वही कह रहा हूँ जो हम और आप रोज देखते हैं. मेरा उद्देश्य किसी धर्म का अपमान करना नहीं है. मैं सिर्फ हिन्दुओं के लिए वही गरिमा वही सम्मान चाहता हूँ जो होनी चाहिए. http://kg70.jagranjunction.com

के द्वारा:

विज्ञान में भारत के पीछे रहने का सबसे बड़ा कारण है , "Platform" का नहीं मिलना | Platform से मेरा मतलब है की हमारे देश में प्रतिभा तो बहुत है लेकिन उस प्रतिभा को सबके सामने नहीं लाया जा सकता और उसका सही उपयोग ही नहीं किया जा सकता | ये सब कुछ सिर्फ कहने के लिए है की हम सभी जगह सभी को बराबर मोका देते है | इस बात का प्रमाण ये है की कुछ समय पहले हमने अख़बार में पड़ा था की एक व्यक्ति ने अपने घर पर ही सायकिल से चलने वाली मोटर बना ली क्यों की उस गांव में बिजली नहीं थी | यहाँ ये खबर इस तरह से थी की " आवश्यकता ही अविष्कार की जननी है " , किन्तु अगर हम इसी बात को दूसरी तरह सोचे तो हो सकता है की इस तरह का ख्याल किसी ऐसे व्यक्ति के मन में काफी साल पहले ही आ गया हो जिसके पास सायकिल ही नहीं थी और इसी वजह से वो न तो इस बात को कही prove कर सकता था और न ही इसे बना सकता था | मतलब साफ़ है इस तरह का अविष्कार काफी समय पहले ही हो गया होता अगर उस व्यक्ति के पास suitable offer होता | ये तो सिर्फ एक उदाहरण था ऐसे कितने ही case अभी भी है | मेरा इन सबसे कहने का मतलब सिर्फ इतना है की भारत में talent की कोई कमी नहीं है, यहाँ तक की भारत में ऐसे भी लोग है जो भारत को कुछ ही समय में world में हर क्षेत्र में top position पर पंहुचा सकते हैं बस जरुरत है तो उन्हें खुले में मौका देने की | मै खुद भी ऐसे ही किसी मौके की तलाश कर रहा हू जो मुझे किसी भी क्षेत्र मै मिल जाये तो वहां से INDIA को top position पर ले जाने की जिम्मेदारी मेरी होगी | और रही बात विज्ञान की तो हर महीने एक नया invention होगा | धन्यवाद ! आपने मुझे लिखने का मौका दिया |

के द्वारा:

कांग्रेस की उत्तरप्रदेश की हार और सपा की जीत की एक ही सच्चाई है वोह है बेरोजगारी भत्ता और लैपटॉप का वादा | और दुसरे यह के लोगों को बहुजन समाज पार्टी का विकल्प चाहिए था| उतार प्रदेश में सिर्फ तीन चरण की मतदान के बाद ही से बेरोजगारी भत्ता के लिए कुछ सेवायोजन कार्यालय में पंजीयन हेतु एक अफवाह की तौर पर लाइन लगनी शुरू हो गयी जिसकी हवा अन्य जग्रहों पर फ़ैल गयी लोगों को यह लगा की सपा की सीट हो चुके चरणों के चुनाव में निकल रही है बस इसका लाभ पश्चिमी उत्तर प्रदेश में भी मिला| लोगो ने भी अपने वोट ख़राब न करते हुए जितने वाली पार्टी को वोट किया| अगर जनता ने सपा को पांच वर्षों का समय दिया है तो यह लोकतंत्र के लिए बहुत अच्छा है इसी तरह का जनमत आना ही चाहिए और सपा को लोकतंत्र और कार्यपालिका की मर्यादा का ख़याल रखते हुए पिछले लोकतंत्र के कार्यों को पीछे छोड़ते हुए कुछ मिशाल बन सके नहीं तो जनता दुसरे नेशनल पार्टियों को ही तवज्जह देगी | सरफराज आलम सोनभद्र उत्तरप्रदेश

के द्वारा:

के द्वारा: test4hemen test4hemen

इस देश में कांग्रेस हीं एक ऐसी पार्टी है जिस पार्टी ने सबसे ज्यादा सत्ता का लाभ उठाया है क्यूंकि ज्यादा सालों तक इसी पार्टी का राज रहा है, इस देश में और निस्संदेह कांग्रेस ने सार्वजानिक पैसों से अपनी पार्टी का प्रचार प्रसार किया है इनके लिए देश हित से ज्यादा पार्टी हित ही ज्यादा जरुरी लगता है चुनाव आयोग जितना ही आचार संहिता की दुहाई दे कांग्रेस सबसे पहली पार्टी इस देश की है जो चुनाव आयोग की बिलकुल परवाह नहीं करती यह इस पार्टी का चरित्र है मेरे विचार से सभी योजनाओं सड़कों भवनों के उद्घाटन या जनता को समर्पण के समय उस कार्य को पूरा करनेवाले इंजिनीअर और ठेकेदारों का नाम होना चाहिए जिससे उनके कार्य की गुणवत्ता सार्वजानिक हो और आगे वे काम देने के लायक हैं या नहीं यह सरकार को मालूम चले यही एक निस्पक्छ तरीका है भविष्य में इसका अनुपालन करने का सरकार आश्वासन दे किसी को कोई विवाद करने का अवसर नहीं मिलेगा और साथ हीं इस देश का ढेर सारा पैसा ऐसे वाहियात कार्यों पर जो खर्च होतारहा है वह रूक सकेगा और वह पैसा किसी लाभकारी योजना को पूरा करने के काम आएगा मायावती द्वारा मूर्तियाँ बनवाना इसी तरह की एक झूठी स्पर्धा ही है उन्हें भी लगा जब गाँधी नेहरु परिवार की मूर्तियाँ चौराहों पर लगी है तो क्यूँ नहीं माननीय कांशी राम और बहन मायावती की मूर्तियाँ लगायी जाएँ इससे अपने देश का धन बर्बाद होता है और एक गलत परंपरा को चलते रहने का बहाना मिलता है जो की एक जनविरोधी निति है इससे किसी का कोई लाभ नहीं होनेवाला हाँ धन की बर्बादी जरुर होगी

के द्वारा: ashokkumardubey ashokkumardubey

अन्ना साहब घिर गए है. कुछ चतुर सियाने लोगों को अपना उलू साधने एक सीधा सरल इकॉन चाहिए था अन्ना साहब ने अपने सच्चे आंदोलनों से आज के युग में गांधीजी की याद दिला ही दी थी. बस इन लोगों ने अन्ना साहब को शीशे में उतार लिया. आयकर विभाग से भागे हुए तथा जन हित याचिकाओं के धुरंधर seetingbaaz लोगों ने अपने हितों के लिए एक सीधे सादे असली गाँधी-2 का नजयाज फायदा उठाने का कार्य किया था. शायद जनता इसे जल्दी ही भांप ली और इनकी काठ की हांड़ी दोबारा चूल्हे पर चढ़ने से रही. केजरिवालजी और भूषण जी को सीता मैया की तरह अग्नि परीक्षा देनी ही चाहिए या फिर होलिका की तरह... इतना हंगामा मचा. अब तो दुसरे जज साहब ने भी अपना दुखड़ा रो दिया फिट भी भूषण साहब चुप है.

के द्वारा: merehisaabse merehisaabse

चिदंबरम साहब की सबसे बड़ी कमी है : १. वे दुसरे आदमी को आदमी ही नहीं समझते है , बल्कि गधा समझते है. २. सीधे सीधे चोरी का माल अपना बता कर होशिअरी दिखाते है. कुछ पुराना माल निकला कुछ विदेशों से आयातित किया और नया आईडिया पेश कर दिया. फिर भी NCTC के विरोध का कोई औचित्य नहीं है. आज हमारे देश में जो आतंकवादी घटनाये हो रही है उसका एक कारन हमारी विवश कानून व्यव्यस्था ही है ऊपर से हर दल की अपनी अपनी मजबूरी किस आचरण को समर्थन दे किसे नहीं . देश और जनता के बारे तो सोचना ही दूभर. तो ऐसा कोई भी उपाय आये जिससे ऐसे अपराध एक ही जगह एक ही कण्ट्रोल से जांच के दायरे में आये उसका स्वागत होना ही चाहिए. कोई दल आज सत्ता में तो कल कोई दूसरा होगा. परन्तु अगर अपराधी यूँ ही मस्त घुमाते रहे तो न देश बचेगा न नेता. जनता का क्या वह या तो आजाद रहेगी नहीं तो ग़ुलाम रहेगी.

के द्वारा: merehisaabse merehisaabse

एन के सिंह आपने बड़ा ही सही चित्रण किया है भारतीय मिडिया के काम करने के तरीके के बारे में आज इलोक्ट्रोनिक मिडिया के युग में किसी भी महत्वपूर्ण जानकारी को जन जन तक पहुचाने के लिए इससे बेहतरीन और कारगर उपाय और कोई दूसरा नहीं कहा जा सकता पर मेरे विचार से केमिकल खाद के बजाय जैविक खाद के प्रयोग को बढ़ावा दिया जाये और उसे राष्ट्रिय चैनल एवं छेत्रिय चैनलों द्वारा ब्यापक प्राथमिकता दी जाये तो खेती में काम करनेवाले किसानो का ज्यादा भला होगा और केमिकल खाद पर निर्भरता भी कम होगा जिसे आयात भी करना पड़ता है और हमारी खेती लायक जमीने भी दिनोदिन बंजर होती जा रही हैं मतलब सबसे महत्वपूर्ण तो इलोक्ट्रोनिक मिडिया का गाँव गाँव तक पहुचना और सार्थक एवं लाभकारी कार्यकर्मो का प्रसारण ही मूल रूप से उपाय है बिग्यापनो का सहारा लेकर हम जन जागरण का काम नहीं कर सकते क्यूंकि मुक्त ब्योपार एवं खुले बाजार में जो बिकता है वही दिखाया जाता है इसमें सरकारी चैनल एवं कार्यकर्म ही कुछ कर सकते है . अगर राष्ट्रिय प्रसारणों में इसका समावेश किया जाये तो

के द्वारा:

के द्वारा:

कुलदीप नयएर ने मीडिया की स्वतंत्रता की हिमातात की है , मीडिया स्वायत्त हो, पर अपने दायित्व की अनदेखी न करे. अपुस्ट सूचनाओ के आधार पर मीडिया किसी को भी दोषी मानकर उसके विरुद्ध निंदा ABHIYAN आरंभ कर देता है और बाद में यदि अपने को गलत पाता है तो छोटा सा माफीनामा छाप देता है. रास्ट्रवादी संगठनो के विरुद्ध ऐसे अभियानों में आई . अस . आइ. के AGENT गुलाम नबी फाई के मेहमान रहे कुलदीप नैयेर स्वयं शामिल रहते है. मीडिया की स्वतंत्रता की आड़ में आतंकियो का महिमामंडन SAHAN नहीं किया जा सकता. कारगिल युद्ध में एलेक्टोनिक मीडिया के कुछ लोगो की वजह से हमने अपने ३ बहादुर सैनिको को KHOYA था , हमे यह नहीं भूलना चाहिए. स्वतंत्रता दायित्व बोध के साथ ही होनी चाहिए.. .

के द्वारा:

महोदय, बड़े दुःख की बात है कि बालकों का निःशुल्क और अनिवार्य शिक्षा का अधिकार अधिनियम 2009 दिनांक 1-4-2010 से पूरे देश में लागू है किन्तु उत्तर प्रदेश में कम्प्यूटर शिक्षा हेतु यह आज तक नहीं लागू है जबकि कम्प्यूटर विषय कक्षा 6 से 8 तक के विद्यार्थियों के लिए अनिवार्य है।उत्तर प्रदेश ही नहीं बल्कि पूरे देश में कम्प्यूटर शिक्षा पूरी तरह अरबों, खरबोें रूपये के भ्रष्टाचार, अराजकता, कम्प्यूटर शिक्षकों के शोषण तथा सरकारी लूट को समर्पित है। बालकों का निःशुल्क और अनिवार्य शिक्षा का अधिकार अधिनियम 2009 की धारा 38 के अनुसार उत्तर प्रदेश निःशुल्क और अनिवार्य शिक्षा का अधिकार नियमावली 2011 बनायी गयी जिसकी धारा 18 ;1द्ध के ;खद्ध में यह स्पष्ट उल्लेख है कि विद्यालय किसी व्यक्ति अथवा व्यक्तियों के समूह या संगठन के लाभ या किन्हीं अन्य व्यक्तियों के लाभ हेतु संचालित नहीं है। फिर भी कम्पनियों को लाभ पहुॅंचाने के उद्देश्य से सरकारों द्वारा कम्पनियों को कक्षा 6,7 व 8 की कम्प्यूटर शिक्षा ठेके पर दे दी गयी। अनुबन्ध के अनुरूप This Agreement shall be governed by the law of India बालकों का निःशुल्क और अनिवार्य शिक्षा का अधिकार अधिनियम 2009 लागू होते ही स्वतः ही शून्य होकर समाप्त हो जाता है। उत्तर प्रदेश निःशुल्क और अनिवार्य शिक्षा का अधिकार नियमावली 2011 धारा 23;3द्ध के बिन्दु 18 जो शिक्षक जिस विद्यालय में शिक्षण कार्य कर रहा है उस शिक्षक पर वही वेतन, भत्ते एवं सेवा शर्ते लागू होंगी और ऐसी सेवा नियमावली से शासित होंगी जैसा कि उस विद्यालय के अन्य शिक्षकों पर लागू होती है। बड़े दुःख की बात है कि उत्तर प्रदेश में कानून एवं लोकतंत्र का राज खत्म करके कम्पनियों को लाभ पहुॅंचाने के उद्देश्य से प्रदेश में बालकों का निःशुल्क और अनिवार्य शिक्षा का अधिकार अधिनियम 2009 की धाराओं का पालन नहीं किया जा रहा है तथा छात्रों और कम्प्यूटर अध्यापकों का शोषण करके सरकार के पैसे की लूट की जा रही है। आज सभी राजनैतिक पार्टियॉ छात्रों को टेबलेट, लैपटॉप, रोजगार व शिक्षा देने की बात कर रहीं है।यहॉं यह भी विचारणीय है कि छात्रों को टेबलेट, लैपटॉप के बारे में शिक्षा कौन देगा जब कि निरन्तर कम्प्यूटर शिक्षक बेरोजगार होता जा रहा है? युवकों की बेरोजगारी कैसे दूर होगी? अब प्रश्न यह उठता है कि सरकार बनाने वाली पार्टियॉं इस मुद्दे को कितनी गम्भीरता से लेती हैं? प्रश्न यह भी उठता है कि लोकतंत्र के चौथे स्तम्भ के रूप मंे प्रेस और मीडिया इस मुद्दे को कितनी गम्भीरता से लेते है? क्यों कि कम्प्यूटर शिक्षकों ने पत्र और साक्ष्यों के माध्यम से इस तरफ प्रमुख राजनैतिक पार्टियों, प्रेस एवं मीडिया का ध्यान आकर्षित करने का प्रयास किया है। हम आशा करते है कि इस मुद्दे पर आप अपनी राय देंगे।

के द्वारा:

महोदय, बड़े दुःख की बात है कि बालकों का निःशुल्क और अनिवार्य शिक्षा का अधिकार अधिनियम 2009 दिनांक 1-4-2010 से पूरे देश में लागू है किन्तु उत्तर प्रदेश में कम्प्यूटर शिक्षा हेतु यह आज तक नहीं लागू है जबकि कम्प्यूटर विषय कक्षा 6 से 8 तक के विद्यार्थियों के लिए अनिवार्य है।उत्तर प्रदेश ही नहीं बल्कि पूरे देश में कम्प्यूटर शिक्षा पूरी तरह अरबों, खरबोें रूपये के भ्रष्टाचार, अराजकता, कम्प्यूटर शिक्षकों के शोषण तथा सरकारी लूट को समर्पित है। बालकों का निःशुल्क और अनिवार्य शिक्षा का अधिकार अधिनियम 2009 की धारा 38 के अनुसार उत्तर प्रदेश निःशुल्क और अनिवार्य शिक्षा का अधिकार नियमावली 2011 बनायी गयी जिसकी धारा 18 ;1द्ध के ;खद्ध में यह स्पष्ट उल्लेख है कि विद्यालय किसी व्यक्ति अथवा व्यक्तियों के समूह या संगठन के लाभ या किन्हीं अन्य व्यक्तियों के लाभ हेतु संचालित नहीं है। फिर भी कम्पनियों को लाभ पहुॅंचाने के उद्देश्य से सरकारों द्वारा कम्पनियों को कक्षा 6,7 व 8 की कम्प्यूटर शिक्षा ठेके पर दे दी गयी। अनुबन्ध के अनुरूप This Agreement shall be governed by the law of India बालकों का निःशुल्क और अनिवार्य शिक्षा का अधिकार अधिनियम 2009 लागू होते ही स्वतः ही शून्य होकर समाप्त हो जाता है। उत्तर प्रदेश निःशुल्क और अनिवार्य शिक्षा का अधिकार नियमावली 2011 धारा 23;3द्ध के बिन्दु 18 जो शिक्षक जिस विद्यालय में शिक्षण कार्य कर रहा है उस शिक्षक पर वही वेतन, भत्ते एवं सेवा शर्ते लागू होंगी और ऐसी सेवा नियमावली से शासित होंगी जैसा कि उस विद्यालय के अन्य शिक्षकों पर लागू होती है। बड़े दुःख की बात है कि उत्तर प्रदेश में कानून एवं लोकतंत्र का राज खत्म करके कम्पनियों को लाभ पहुॅंचाने के उद्देश्य से प्रदेश में बालकों का निःशुल्क और अनिवार्य शिक्षा का अधिकार अधिनियम 2009 की धाराओं का पालन नहीं किया जा रहा है तथा छात्रों और कम्प्यूटर अध्यापकों का शोषण करके सरकार के पैसे की लूट की जा रही है। आज सभी राजनैतिक पार्टियॉ छात्रों को टेबलेट, लैपटॉप, रोजगार व शिक्षा देने की बात कर रहीं है।यहॉं यह भी विचारणीय है कि छात्रों को टेबलेट, लैपटॉप के बारे में शिक्षा कौन देगा जब कि निरन्तर कम्प्यूटर शिक्षक बेरोजगार होता जा रहा है? युवकों की बेरोजगारी कैसे दूर होगी? अब प्रश्न यह उठता है कि सरकार बनाने वाली पार्टियॉं इस मुद्दे को कितनी गम्भीरता से लेती हैं? प्रश्न यह भी उठता है कि लोकतंत्र के चौथे स्तम्भ के रूप मंे प्रेस और मीडिया इस मुद्दे को कितनी गम्भीरता से लेते है? क्यों कि कम्प्यूटर शिक्षकों ने पत्र और साक्ष्यों के माध्यम से इस तरफ प्रमुख राजनैतिक पार्टियों, प्रेस एवं मीडिया का ध्यान आकर्षित करने का प्रयास किया है। हम आशा करते है कि इस मुद्दे पर आप अपनी राय देंगे।

के द्वारा:

चुनौती ईसाइयत नहीं और न ही कोई विशेष धर्म है. यदि हमारे सामने कोई चुनैती है तो वो है हमारे अन्दर पनपने वाले इर्ष्या, लोभ, असंतोष और स्वार्थ जैसे भावनाए जो धर्म और परम्परा के आड़ में पनपती है. हमारा हिन्दू धर्म वसुधैव कुटुम्बकम की बात करता है वही दूसरी तरफ हम खुद के साथ-साथ अपने घरों, समाज और देश को विचारों, अपना-पराया, जाति और सीमाओं में बांध दिए है. इस समस्या से हम आज ही से नहीं अपितु आदि कल से जूझ रहें है परिणामस्वरुप अनेक धर्मों के साथ-साथ विचारों और मतों का उदभव हुआ. कारण स्पष्ट है कि हमें हर बार ही हमारी मनोवृतियों को धर्म और समुदाय का बल मिलाता गया और हम हर बार ही अपनी वाली करते गए. अतः किसी धर्म विशेष पर टिपण्णी करने से पहले यदि हम अपने कमियों पे नज़र डालें तो बेहतर होगा. वैसे आप आकड़ों का अच्छा इस्तेमाल कर लेते है पर यदि इन आकड़ों के पीछे छुपे तथ्यों पर हम गौर करते तो हमारे भारतीय समाज में आज असमानता के साथ-साथ धर्म परिवर्तन जैसी समस्याएं नहीं रहती...

के द्वारा: अलीन अलीन

जब तक चोर, लुटेरे, अनपढ़, गंवार, गुंडे, डकैत इस देश का बागडोर अपने हाथों में ले रक्खा है कुछ नहीं हो सकता है | आरक्षण ने देश का सत्यानाश कर दिया है गधों घोड़ों को सरकारी संस्थानों, जहाँ पर R&D हो सकता है नौकरी मिल जाती है और मेधावी लोग पीछे रह जाते है | हिन्दुस्तान में Private Organizations तो जल्दी से जल्दी पैसा कमाने के फिराक में लगा होता है विदेशों जैसा नहीं जहां R&D पर और Technology Up-gradation के लिए दिल खोलकर पैसा खर्च किया जाता है | SONY, Panasonic, Samsung, LG आदि अपने मुनाफे का १० से १२% R&D और Technology Up-gradation पर खर्चा करता है | हिन्दुस्तान में कंपनियां मुस्किल से २% भी खर्च नहीं करती | सरकारी संस्थानों में कोई काम नहीं होता है, पैसे का भरपूर दुरपयोग होता है, HAL को देखिए २५ सालों से LCA बना रहा है लेकिन आभी तक जीरो बटा सन्नाटा, कारण हरामखोरी, चोरी और आरक्षण के तहत भारती हुए गधे जैसे इन्जिनीराओं की भरमार | इस दशा में इस देश की ऐसी ही दुर्दशा होगी | विद्वानों, ईमानदार, देश भक्तों की सरकार हो आरक्षण समाप्त हो तभी कुछ हो सकता है अन्यथा यह देश या तो फिर गुलाम होगा या महा पिछड़ों में शामिल हो जाएगा | वन्दे मातरम

के द्वारा:

के द्वारा: